Sunday, December 10, 2017

Published 12:32 AM by with 0 comment

दिन नया चूत नयी..

हेल्लो फ्रेंड्स मैं जबलपुर मैं रहता हूँ मेरा नाम अभिषेक है | मैं एक स्टूडेंट हूँ मैं कक्षा १२ मैं पड़ता हूँ | मेरी हाईट ५फुट ६’’ है मेरा रंग गोरा है | मैं जिम करता हूँ इसलिए मेरे शरीर एक पहलवान जैसा है मेरी उम्र १८ है और मैं एक शरीफ लड़का हूँ | मेरे परिवार मैं कुल ५ लोग है मैं ,मेरे पापा मेरी माँ मेरा एक भाई जिसका और मेरी एक छोटी सिस्टर भी है | और मैं एक अच्छे घर से बिलोंग करता हूँ, अब ये तो हुआ मेरा और मेरे घर वालो का इंट्रो पर अब मैं अपनी चुदाई का इंट्रो दूंगा मेरा लंड ८ इंच ३ इंच मोटा है अब मैं इतना अंतर क्यों है, क्युकी मैं रोजाना मुट्ठ मरता हूँ जिसके कारण मेरा लंड इतना बड़ा हो गया है | और मेरी चुदाई करने की बहुत इच्छा होती है | और मैं चुदाई करने का बहुत शौकीन हूँ और अब मैं आपको अपनी स्टोरी बताता हूँ ये कहानी ६ महीने पहले की है उस टाइम मैं कटनी मैं था |

कटनी जाता आता रहता हूँ क्युकी वहां मेरे चाचा रहते है | इसलिए मेरी वहां पर दो गर्लफ्रेंड बन चुकी थी | एक मेरे चाचा के बगल वाले घर मैं और एक थोड़ी दूरी पर रहती थी | और वो दोनों एक एक दुसरे को जानती नहीं थी | और दोनों बहुत ही खुबसूरत और सेक्सी दिखती थी | एक का नाम शिवानी और दूसरी का नाम आयुषी था | और दोनों का रंग गोरा था शिवानी का फिगर सेम था और बड़े बड़े बूब्स थे और आयुषी का फिगर गदराया हुआ था बड़े बड़े बूब्स उठी हुई गांड | और दोनों को देख कर ये ही लगता था की दोनों को खड़े खड़े ही चोद दूँ |और उस टाइम मैं कटनी मैं था तभी मेरा बर्थ डे आया और मैंने अपनी दोनों से वादा किया की मैं पूरा दिन उनके साथ रहूँगा | तब उन दोनों ने भी कहा लेकिन मैंने उनसे कहा मैं जो मागुंगा वो उन्हें मुझे देना होगा तो मेरी एक गर्लफ्रेंड शिवानी ने कहा की मैं फिसिकल रिलेसनशिप नही बनाउंगी | और कुछ मांगना मैं कहा ओके तो फिर मैंने उसे फ़ोर्स नही किया | और रात मैं मिलने के लिए शाम को ६ बजे कह दिया और आयुषी ने हाँ | कह दिया की जो मांगना है मांग लेना फिर अगले दिन मेरा बर्थडे आ गया मैं अपने बर्थडे वाले दिन अपनी बगल वाली गर्लफ्रेंड आयुषी से मिलने के लिए उसे कॉल किया | तो उसने कहा आज मेरे घर पर कोई नहीं रहेगा तुम १ घंटे बाद मेरे घर आ जाना मैं कहा ठीक है | और मैं एक घंटे बाद उसके घर पहुँचा और बैल बजाई तो उसने दरवाजा खोला और उसने ब्लू कलर की टॉप और रेड कलर की स्कर्ट पेहेन रखी थी | क्या खूब लग राइ थी और उसे देख कर ही मेरा लंड खड़ा हो गया और मन सोच लिया था इसे आज चोदुंगा ही चाहे जो हो जाये फिर हम लोग उसके रूम मैं गए | और उसने मेरे लिए केक लाया मैं कहा इसकी क्या जरुरत थी |

तो उसने कहा जरुरत क्यों नहीं थी आज मेरी जान का बर्थडे है फिर हम दोनों केक काटा और एक दुसरे को केक खिलाया | फिर उसने मेरे फेस मैं भी केक लगा दिया और मैं भी उसको केक लगाने लगा और हम दोनों एक दुसरे को यैसे ही केक लगाने लगे और एक दुसरे को केक से पूरा भिड़ा दिया | फिर उसने कहा अब बताओ तुम्हे गिफ्ट क्या चाहिए ! जेसा की आपको मैंने अपने बारे बताया था की मैं चुदाई करने का शौकीन हूँ | तो फिर मैंने उससे कहा मैं जो गिफ्ट तुमसे मांगूंगा वो तुम नही दे पाओगी | तो उसने कहा मांग के तो देखो जान भी दे दूंगी | मैंने फिर उससे कहा मैं तुम्हे पूरी तरह से अपना बनाना चाहता हूँ | और आज तुमसे बहुत सारा प्यार करना चाहता हूँ तो उसने कहा मैं तो वेसे भी तुम्हारी ही हूँ | फिर उसने मेरा हाथ पकड़ा और मुझे लिप्स पर किस करने लगी | और मेरे फेस लगे केक को चाटने लगी कसम से दोस्तों क्या मज़ा आ रहा था | मुझे मैं बता नहीं सकता फिर मैं भी उसका साथ दिया और उसके लिप्स अपने लिप्स से खींचने लगा और उसके फेस गले और गाल पर लगे केक को चाटने लगा | और उसकी टॉप के ऊपर से ही उसके ढूध दबाने लगा वो भी मुझे लगातार किस किये जा रही थी | फिर मैं अपना हाँथ उसकी टॉप के अन्दर डाल दिया उसने अन्दर ब्रा पहनी थी | और मैने उसकी ब्रा के अन्दर भी हाथ डाल दिया उसने मुझे मना नहीं किया मे भी समझ गया था की वो भी गरम होने लगी है | मैने उसका टॉप उतर दिया उसने मेरी शर्ट उतर दी उसने पिंक कलर की ब्रा पहनी हुई थी और उसमे उसके बड़े बड़े ढूध बिलकुल दाइमंड जैसे दिख रहे थे | उन्हें देख कर मुझसे कंट्रोल नहीं हो रहा था मैं उसकी ब्रा और स्कर्ट भी उतार दी और वो मेरे सामने सिर्फ अंडर वियर मैं थी क्या बूब्स थे | उसके गोल गोल बड़े बड़े थे मैं उन्हें देख कर उनका दीवाना हो गया फिर मैंने उसके दूध को चूसना शुरू किया और उसके निप्पलो को जोर जोर से काटना शुरू कर दिया | और वो मेरे पेंट के ऊपर से ही मेरा लंड सहला रही थी | फिर उसने मेरी पेंट के बटन ख़ोल दी और मेरा पेंट नीचे की तरफ सरका कर उतार दिया | और मेरे अंडर वियर के ऊपर से ही मेरे लंड को जोर जोर से दबाने लगी फिर मैं उसकी अंडर वियर मैं हाँथ डाल दिया उसकी चूत पूरी तरह गीली हो चुकी थी मैं उसकी चूत को अपने हाथ से सहलाने लगा | तो वो आह्ह्ह आह्ह्ह की आवाजे निकालने लगी और पूरी तरफ सेक्स के जोश मैं पागल हो चुकी थी और मेरे अंडरवियर को उतार दिया | और मेरे लंड को अपने हाथ मैं लेकर आगे पीछे करने लगी मे भी पूरे जोश मैं आ गया था | और मैं उठा और उसे मेरा लंड चूसने को कहा वो भी पूरे जोश मैं थी | और वो मान गई और मेरे लंड को बड़े प्यार से अपने मु मैं लेकर चूसने लगी और वो उसे एक दम लोलीपोप की तरह मेरे लंड को चूस रही थी और मुझे जन्नत का एहसास करवा रही थी |

हम दोनों लाइफ मैं पहले बार सेक्स कर रहे थे और जन्नत मैं पहुँच चुके थे | करीब १५ मिनट उसको अपना लंड चुसाने के बाद मैं उसके मुह से अपना लंड निकाला और उसकी अंडर वियर उतार दी और उसकी चूत को उसकी अंडर वियर से आजाद कर दिया | और उसकी चूत को देख कर मेरे तो होश ही उड़ गए बिलकुल गोरी चूत थी | उसकी और उसमे एक भी बाल नहीं थे | मैं उसे देख कर सेक्स के नशे मैं पूरी तरह पागल हो गया था | और अपने आप को उसकी चूत चाटने से नहीं रूक पाया और 69 की पोजीशन मैं लेटकर उसकी चूत चाटने लगा वो आह्ह अआह्ह्ह की आवाजे निकलना चुरू कर दिया | फिर वो भी मेरा लंड चूसने लगी और हम दोनों एक दुसरे की चूत और लंड चाट रहे थे और २० मिनट ऐसे ही उसकी चूत चाटने के कारण वो झड़ गई | और मैं उसकी चूत का पूरा रस पी लिया फिर मैं उठा और उसकी चूत मैं अपना लंड रखा और उसके होंठो पर अपने होंठ रख दिए और एक जोर का झटका मारा | उसकी चूत गीली होने के कारण एक बार में ही मेरा पूरा लंड उसकी चूत में घुस गया और जोर से तड़पने लगी उसकी चीखे निकल रही थी | पर उसके लिप्स पर मैं अपने लिप्स रख कर किस किये जा रहा था वो मुझसे छूटने की कोशिश कर रही थी पर मैंने उसे बहुत जोर से पकड़ा हुआ था | वो मछली की तरह तड़प रही थी पर मैंने उसे नहीं छोड़ा और मेरे भी लंड में थोडा सा दर्द हो रहा था | फिर मैं अपना लंड उसकी चूत में धीरे धीरे अंदर बहार करने लगा और १५ मिनट बाद उसे भी दर्द कम होने लगा और वो भी अपनी कमर हिलाने लगी | मैं समझ गया की अब उसे दर्द नहीं हो रहा है और उसे भी मज़ा आने लगा है | तो मैंने उसके होंठ से अपने होंठ अलग किये और अपनी चुदाई की स्पीड बढ़ा दी वो भी अपनी कमर हिला हिला के मुझसे चुदवा रही थी और आःह्ह्ह अह्ह्हह्ह्ह्हह्ह आह्ह्ह्हह्ह आह्ह्ह्हह्ह की आवाजे निकल रही थी| मैं भी जोर जोर से उसके ढूध दबा रहा था और उसे चोदे जा रहा था और उसकी पूरी बॉडी को चाटे जा रहा था उसने कहा जानू कभी मुझे धोखा तो नहीं दोगे | मैंने कहा नहीं जानू फिर उसने मुझे आई लव यू कहा और मेरे होंठो पर अपने होंठ रख दिए | मैं भी अपनी चुदाई की स्पीड बढ़ा दी और सारा माल उसकी चूत मैं ही छोड़ दिया | और हम दोनों बिलकुल थक चुके थे तो एक दुसरे के ऊपर ही लेटे लेटे लगातार एक दुसरे को किस किये जा रहे थे | उसके बाद मैं अपने घर चला गया और मुझे शाम को शिवानी से भी मिलने जाना था तो मैं शाम को उससे मिलने गया और उसे भी मना के कैसे उसके साथ में सेक्स किया वो मैं आपको अपनी अगली स्टोरी मैं बताऊंगा |
      edit

0 comments:

Post a Comment