Sunday, December 31, 2017

Published 7:48 PM by with 0 comment

छोटी मामी की चुदाई की इच्छा

हेल्लो दोस्तों मेरा नाम सरकार है | मैं आज फ्री हिंदी सेक्स स्टोरीज के पाठको के लिए अपनी एक कहानी को लेकर आया हूँ | दोस्तों मुझे सेक्सी कहानी पढने में बहुत रूचि है और मैं सेक्सी कहानी काफी अरसे से पढता आ रहा हूँ | मैं जब कहानी पढता हूँ तो मेरे मन को ख़ुशी मिलती है | मैं इसलिए कहानी पढ़ता हूँ और जब मैं दूसरो लोगो की कहानी पढता हूँ तो मेरा भी मन होता की मैं भी अपनी कहानी लिखूं तो मैं आज अपनी कहानी को आप लोगो के सामने पेश करने जा रहा हूँ | मैं जो आज कहानी लिखने जा रहा हूँ ये मेरी छोटी मम्मी की कहानी हैं | मैं आशा करता हूँ की आप लोगो को मेरी कहानी पसंद आएगी और इस कहानी को पढने में आप लोगो को मज़ा आएगा | मैं कहानी को शुरू करने से पहले अपने बारे में बता देता हूँ | मैं रहने वाला चेन्नई का हूँ और मेरी उम्र 22 साल है | मेरा रंग गोरा है और मेरी हाईट 6 फुट 3 इंच है | मेरी बहुत बॉडी ठीक ठाक है जिससे मैं दिखने में स्मार्ट भी लगता हूँ | दोस्तों मैं आप लोगो का ज्यादा समय न लेते हुए सीधे अपनी कहानी पर आता हूँ |

ये कहानी तब की है जब मैं अपनी मामी के घर गया हुआ था | मेरे मामा तीन भाई हैं और मेरे छोटे मामा अगल रहते हैं | जब मेरे मामा की शादी हुई थी उसके कुछ दिन बाद मामा और मामी दूसरी जगह रहने लगे थे | मैं आप लोगो को अपने मामा और मामी के बारे में बता देता हूँ | मेरे मामा का नाम राम किशोर है और वो दिखने में काफी अच्छे लगता हैं | मेरे मामी का नाम सरिता है | मामी दिखने में बहुत गोरी हैं और उनका फिगर बहुत सेक्सी हैं | जब मैंने उनको पहली बार शादी में देखा था तो मेरा दिल मामी पर आ गया था और मैंने उस टाइम ही सोच लिया था की दिन मामी को अपनी टांगो के नीचे जरुर लाऊंगा | मामी के बड़े बूब्स और उनकी मस्त सेक्सी गांड बहुत आकर्षण हैं जिनको देख कर मेरा लंड खड़ा हो जाता था | फिर जब मामा और मामी दूसरी जगह रहने लगे थे तो कुछ दिन बाद मेरे मामा की जॉब लग गयी थी जिसकी वजह से मामा दुसरे शहर में रहने लगे थे | जब मुझे ये बात पता चली की मामा घर पर नही रहते हैं तो मैं मामा के घर चला गया | जब मैं मामा के घर चला गया तो मैं वही रुकने लगा क्यूंकि मुझे घर पर भी कोई काम नही था | मैं वहीँ रुक कर मामी को पटाने के बारे में सोचने लगा | मुझे नही पता था की मामी इतनी जल्दी पट जाएँगी | दोस्तों मुझे पता था की मैं मामी को पटा लूँगा पर इतनी जल्दी ये नही पता था | जब मैं मामी के घर रुकने लगा तो मामी मुझसे मजाक किया करती थी और जब वो मुझसे करती तो मैं उनसे भी मजाक कर देता था | जब मैं मामी से मजाक करता तो वो मुझे बड़ी सेक्सी स्माइल देती और जब वो स्माइल देती तो मैं कभी कभी मजाक में उनकी गांड पर हाथ मार देता था | जब में गांड पर हाथ मारता तो वो हँसती हुई मेरे बालो को सहला देती थी |

दोस्तों मामी के घर एक लड़की कभी कभी आती रहती थी | वो भी दिखने में बहुत सुन्दर थी | मैं कभी कभी उसे भी लाइन मारने लगता था तो वो मुझे देख कर हंश देती थी | मुझे इसी तरह से मामी के घर 6 दिन हो गए | अब मैं मामी को कभी कभी अपनी बाँहों में में भर लेने लगा और जब मैं मामी को बाँहों में भर लेता तो मामी के बड़े बूब्स दबा जाते और मामी मुझ पर घुस्सा होने की वजह से मुझे बड़े प्यार से देखती | मुझे उस दिन पक्का पता चल गया की मामी मुझ से चुदना चाहती है | जब मुझे ये पता चल ही गया था तो मैं मामी के मुंह से ये बात सुनना चाहता था | मैं इसलिए मामी को अब ज्यादा टच नही करता था | मैं अब जब मामी से दूर होने लगा तो मामी खुद ही मेरे पास आने लगी और कहती क्या हुआ आज कल तुम मुझसे मजाक भी नही करते हो | मैं भी इसी बात का इंतजार कर रहा था की कब मुझसे मामी ये बात कहे और मैं उनके मुंह से ये बात कहवा दूँ की वो मुझसे कह मैं तुम्हारे लंड से चुदना चाहती हूँ तो मेरी चूत को चोदकर मेरी चूत की गर्मी को बुझा दो | तब मैंने मामी से कहा तुम्हारे साथ मजाक करके क्या करूँ में मजाक से मेरा मन तो भरने वाला नही हैं | वो मेरी ये बात सुनकर बोली तो तुम्हारा जो मन हो कर लो तुमको रोका किसने हैं | मैं तब मामी से कहा की सच में तो मामी बोली हाँ यार मैं तुम्हारे लंड से कब से चुदना चाहती हूँ पर मैं कह नही पा रही थी | मैं उनके मुंह से ये बात सुनते ही उनको अपनी बाँहों में भर लिया और उनको चूमने लगा | मैं उनको अपनी बाँहों में भर कर चूमने लगा और वो मेरे गले को अपने जीभ से चाटने लगी | वो मुझे चाट रही थी और मैं उन्हें चाट रहा था | मैं उनको ऐसे ही कुछ देर तक चाटने के मैंने उनकी होठो पर अपनी होठो को रख दिया तो वो मेरी होठो को मुंह में रख कर चूसने लगी | मैं उनकी होठो को चूसने के साथ उनके बड़े बूब्स को कपडे के ऊपर से दबाने लगा | मैं उनके बूब्स को दबाने लगा तो मेरा लंड पैन्ट में खड़ा हो गया था | वो मेरी होठो को जोर जोर से मुंह में रख कर होठो से दबाती हुई चूस रही थी |

दोस्तों मैं उनकी होठो को चूसने के साथ उनके बूब्स को एक हाथ से दबा रहा था और मैंने अपने एक हाथ को मामी की चूत पर रख दिया | मामी की चूत की गर्मी पाकर मेरा लंड झटके मारने लगा | मैं मामी की चूत को सहलाने के साथ मामी की चूत में अपनी ऊँगली घुसा दी जिससे मामी के मुंह से मस्त आवाज में आहे आहे निकल गयी | मैं मामी की वो आवाज सुनकर ऊँगली को अन्दर बाहर करने लगा | मैं मामी की चूत में ऊँगली करने ही लगा था की उस लड़की ने मामी को आवाज दी जिससे हम दोनों दूर हो गए | फिर वो लड़की और मामी बैठ कर बात करने लगी | जब वो और लड़की बात करने लगी तो मैं भी घर से बाहर चला गया | फिर शाम को आया और खाना खाकर लेट गया और कुछ देर आराम किया |

फिर मैं मामी के बेडरूम में गया और मामी मेरे इंतजार में बैठी ही थी | वो मुझे अपनी बाँहों में भर लिया और कहा यार आज मेरी चूत की गर्मी को संत कर दो | मैंने भी मामी को चूमने लगा और उनको बेड पर लेटा दिया | वो बेड पर लेट गयी और मैं उनको चूमने के बाद उनकी साडी को हटा दिया और धीरे धीरे उनको ब्रा और पैंटी में ले आया | मैं उनका गदराया हुआ बदन देखकर मेरे लंड ने पैन्ट को ऊपर चढ़ना शुरू कर दिया | मैं उनके पुरे जिस्म को चूमना शुरू किया और कुछ देर में उनको चूमने के बाद उनको पूरा ही नंगा कर दिया | वो जोर जोर से सांसे लेने लगी | मैं उनकी वो तेज सांसे सुनकर उनके बूब्स को और जोर जोर से मसलने लगा | मैं उनके बूब्स को मसलने के साथ मुंह में रख कर चूस रहा था और दुसरे हाथ की ऊँगली को उनकी चूत में घुसा कर हिला रहा था | वो अह अह अह… ह ह ह ह…. आ आ आ आ…. की सेक्सी आवाजे करने लगी | मैं उनकी चूत में ऐसे ही कुछ देर तक ऊँगली को डाल कर जोर जोर से अन्दर बाहर करने लगा | मैं उनकी चूत में ऊँगली को अन्दर बाहर करने के साथ उनकी चूत में जीभ को घुसा दिया | मैं उनकी चूत में जीभ को घुसा कर जोर जोर से अन्दर बाहर करते हुए चाट रहा था | वो मेरे सर को चूत में दबाती हुई जोर जोर से आ आ आ…. ऊ ऊ ऊ… ह ह ह ह…. ओह्ह ओह्ह ओह्ह…. अहह अह्ह्ह अहह… की सिसकियाँ ले रही थी | मैं उनकी चूत के दाने को ऊँगली से फैला कर उनकी चूत को जीभ से चाट रहा था | वो मस्त सेक्सी आवाजे कर रही थी | मैं उनकी वो आवाजे सुनकर मज़े ले रहा था | मैं उनकी चूत को ऐसे ही कुछ देर तक चाटने के बाद अपने कपडे निकाल दिए और मैं अपने लंड को हाथ में पकड कर हिलाने लगा | वो मेरे लंड को घुर घुर कर देखने लगी और बोली ओह्ह इतना बाद लंड मैंने आज तक अपनी चूत में नही लिया | वो मेरे लंड को चकित नज़रो से देखती हुई हाथ में पकड कर आगे पीछे करने लगी | वो मेरे लंड को आगे पीछे करती हुई मुंह में रख लिया और चूसने लगी | वो जब मेरे लंड के टोपे पर अपनी जीभ को घुमाती तो मेरी सांसे तेज हो जाती | वो मेरे लंड को धीरे धीरे अपने मुंह में आधा रख लिया और जोर जोर से अन्दर बाहर करती हुई चूसने लगी | वो मेरे लंड को जोर जोर से मुंह में अन्दर बाहर करती हुई चूस रही थी और मैं मज़े लेते हुए उनके सर को पकड कर चूसा रहा था | वो मेरे लंड को चूस रही थी और मैं उनके मुंह में धीरे धीरे अन्दर बाहर करने लगा |
हेल्लो दोस्तों कैसे हो आप सभी लोग मैं आशा करता हूँ की आप सभी लोग ठीक ही होगे | मैं आप लोगो के सामने अपनी कहानी का भाग 2 लेकर आया हूँ | मैं आशा करता हूँ की आप लोगो को मेरा पहला भाग जरुर पसंद आया होगा और इस कहानी को पढने में मज़ा तो खूब आया होगा | मैं आज उसी कहानी का भाग 2 लेकर आया हूँ और मैं आशा करता हूँ की ये कहानी भी आप लोगो को बहुत पसंद आएगी और उस कहानी से ज्यादा मज़ा भी आयेगा | मैं अपनी कहानी को शुरू करने से पहले अपने बारे में थोडा बता दूँ | मेरा नाम सरकार है और मेरी उम्र 22 साल है | मैं रहने वाला चैन्नई का हूँ और दिखने में बहुत स्मार्ट हूँ | जैसा की मैं आप लोगो को उस कहानी में बताया था की मैं अपनी मामी की चुदाई करने जा रहा था और अब इसके आगे प्रस्तुत करता हूँ |

मामी मेरे लंड को मुंह में रख कर जोर जोर से चूस रही थी और मैं उनके मुंह में धक्के मारने लगा | मैं उनके मुंह में ऐसे ही कुछ देर तक धक्के मारने के बाद उनके मुंह से लंड को निकाल लिया और उनकी टांगो को चौड़ी करके चूत के मुंह पर लंड को टिका दिया | मैं उनकी चूत के मुंह पर लंड को रख कर लंड से चूत के दाने को फेलाने लगा | वो मेरे लंड के स्पर्स पाके उनके मुंह से तेज तेज से सेक्सी आवाजे निकलने लगी | मैं उनकी वो आवाजे सुनकर जोश में आ गया और उनकी चूत में लंड को थोडा घुसा कर जोरदार धक्का मारा दिया जिससे मेरे लंड उनकी चूत में घुस गया | जब मेरा लंड उनकी चूत में घुस गया तो उनके मुंह से दर्द भरी आवाज निकल गयी | पर मैं उनकी वो आवाजे न सुनते हुए चूत में धक्के मारने लगा | मैं उनकी चूत में जोर जोर से धक्के मारने लगा और वो अहह अहह अहह… आ आ आ आ… ह ह ह ह ह…. सी सी सी सी… की सिसकियाँ लेने लगी | वो सिसकियाँ ले रही थी और मैं उनकी चिकनी कमर को पकड कर जोरदार धक्के मार रहा था | मैं उनकी कमर को पकड कर जोरदार धक्को के साथ चोद रहा था | वो मस्त सेक्सी आवाजे करती हुई चुद रही थी | मैं मामी की चूत में कुछ देर तक ऐसे ही धक्के मारता रहा जिससे मामी की चूत से पानी की धार निकल पड़ी | मामी आह अहह अह ऊह्ह ऊह्ह करने लगी और मामी की चूत का सारा पानी निकल गया | फिर मैंने उनको घोड़ी बना कर लंड को पीछे से डाल कर कुछ देर तक चोदने के बाद झड गया | फिर मामी ने मेरे लंड को चूस चूस कर साफ कर दिया | मैं और मामी एक दुसरे से लिपट कर लेट गए और कुछ देर बाद सो गए |

फिर जब मैं सुबह उठा तो देखा की मामी ने नाश्ता तैयार कर दिया है तो मैं नहा कर आया और नाश्ता किया | उसके दुसरे दिन पापा ने घर आने को कहा तो मैं अपने घर चला गया | उस टाइम से मेरी और मामी की फ़ोन पर रात को बाते होती थी | मैं उस दिन पापा के साथ काम से गया हुआ था तो मैं उस दिन मामी से बात नही की और उसके दुसरे दिन जब मैंने उनसे बात की तो वो मुझसे बोली की यार आ जाओ मेरी चूत तुम्हारे लंड को लेने के लिए तैयार है | मैंने भी कहा हाँ मेरी जान मेरा लंड भी चूत को चोदने के लिए तैयार है | पर इस बार मैं तब आऊंगा जब तुम मुझे उस लड़की की चुदाई कराओगी | वो मेरी ये बात सुनकर हँसती हुई बोली कौन जो मेरे घर आती रहती हैं | मैंने कहा हाँ तो वो बोली ठीक है आजा मैं तुझे उसकी चुदाई करवाती हूँ | मैंने कहा तुम इतनी जल्दी कैसे उसे मन लोगी तो मामी बोली की वो बहुत बड़ी चुदक्कड हैं | वो चोदने के लिए तुरंत तैयार हो जाती हैं | मैं ये बात सुनकर सोचने लगा की तब तो जल्दी चलना पड़ेगा | मैं मामी से बात कर ही रहा था की मामी ने मुझसे कहा मैं तुमको एक शर्त पर उसकी चुदाई करा सकती हूँ | मैंने कहा वो क्या है बोलो तो वो बोली साथ मैं मेरी भी चोदाई करनी होगी | मैं ये बात सुनकर मन ही मन में बहुत खुश हुआ और सोचा एक साथ दो चूत बड़ा मज़ा आयेगा | फिर मैंने मामी से कहा हाँ ठीक है | अब मैं मामी के घर जाने का बहाना ढूंढने लगा और मेरी किस्मत भी मेरा साथ दे रही थी | मेरे पापा तभी मेरे पास आये और बोले की ये सामन अपनी छोटी मामी के घर दे आओ तुम्हारे मामा ने कहा है |

फिर मैं उसके दुसरे दिन मामी को फ़ोन किया और कहा मैं रुक नही पाउँगा तो तुम उस लड़की को तैयार करके रखो मैं बाइक से आ रहा हूँ | वो बोली ठीक हैं वो भी तुम्हारा ही इंतजार कर रही है | मैंने फ़ोन रख लिया और मेरे मन में ये सब बाते चल रही थी जिससे मेरा लंड खड़ा हो गया था | मैं ये यही सोचते हुए कुछ घंटो में उनके घर पहुच गया और मैंने देखा की मेरी मामी और लड़की बैठ कर बाते कर रही हैं | वो मुझे देख कर बहुत खुश हुई और मुझे बैठाया और मेरे लिए तुरंत चाय बनाने के लिए जाने लगी | मामी चाय बनाने चली गयी तब मैं उसे लड़की से बात करने लगा | मैं जब उससे बात कर रहा था तो वो मुझे बहुत सेक्सी नज़रो से देख रही थी | फिर हम तीनो ने साथ बैठ कर चाय पी और मैं मामी के बेडरूम में जाने से पहले मामी की और इशारा किया | वो मेरे इशारे को समझ गयी और मैं जाकर कपडे निकाल कर बैठ गया | वो कुछ देर बाद उस लड़की को साथ में लाकर आई और वो मुझे ऐसे देख कर बहुत ही सेक्सी नज़रो से देखती हुई मेरे पास आ गयी | मेरे जिस्म को चूमने लगी साथ में मेरी होठो पर अपनी होठो को रख कर चूसने लगी और एक हाथ से मेरे लंड को पकड कर हिलाने लगी | वो मेरी होठो को चूस रही थी और मैं उसकी होठो को चूसने के साथ उसके बूब्स को कपडे के ऊपर से दबाने लगा | मैं उसकी होठो को चूसने के बाद मैंने उसके कपडे निकाल दिए जिससे वो मेरे सामने ब्रा और पैंटी में आ गयी | मैं उसको सोने जैसे जिस्म को देखकर पागल हो गया और उसकी ब्रा को खीच कर तोड़ दिया | फिर उसके एक दूध को मुंह में रख कर जीभ से उसके निप्पल को चाटने लगा | तब तक मामी भी कपडे निकाल कर तैयार हो गयी | मैं उसके बूब्स को चूसने के साथ मामी के बूब्स को दबाने लगा | मैं कुछ देर तक उसके बूब्स को चूसने के बाद मामी के बड़े बूब्स को मुंह में रख कर चूसने लगा | मैं मामी के बूब्स को चूसने के साथ उसकी गर्म चूत में ऊँगली घुसा दी जिससे उसके मुंह से तेज सांसो में सिसकियाँ निकल गयी |

मैं एक हाथ को मामी की चूत में घुसा दिया और दुसरे हाथ को लड़की की चूत में घुसा कर जोर जोर से हिलाने लगा | वो दोनों ही जोर जोर से सिसकियाँ ले रही थी और मैं उनकी आवाजे सुनकर जोर जोर से दोनों की चूत को हिला रहा था | दोस्तों मैंने उँगलियों को इतनी जोर जोर से हिलाने लगा जिससे कुछ ही देर में मामी की चूत से पानी निकल गया | फिर वो दोनों ही घुटनों के बल बैठ कर मेरे लंड को हाथ में पकड लिया और चूसने लगी | मैं उन दोनों के सर के बालो को पकड लिया | फिर कभी मामी के मुंह में डाल कर चुसाने लगता तो कभी उस लड़की में मुंह में डाल कर | मैं दोनों के मुंह में ऐसे ही कुछ देर तक चुसाने के बाद उस लड़की को लेटा दिया | मैं उसको लेटा कर उसकी टांगो को फैला दिया और उसकी चूत के मुंह पर रख कर घुसा दिया | मेरा मोटा और लम्बा लंड जैसे ही उसकी चूत में घुसा तो उसने मुंह से जोरदार दर्द भरी आवाज निकल गयी | मैं उसकी पतली कमर को पकड कर जोरदार धक्के मारने लगा | वो अहह अह अह.. आ आ आ…. ह ह ह ह…. ओह्ह ओःह ओह्ह की आवाजे जोर जोर से करने लगी तो मामी उसके मुंह पर अपनी चूत को टिका दिया | वो उसके मुंह पर अपनी चूत को रख कर चुसाने लगी | वो उसकी चूत को चाटने लगी | मामी अपनी चूत को चटा रही थी और मैं उसकी चूत में जोरदार धक्के मार रहा था जिससे उसके बूब्स हिल रहे थे | मैं उसको ऐसे ही जोरदार धक्को के साथ चोद रहा था और वो मस्त सेक्सी आवाजे करती हुई अपनी चूत को हिला हिला कर चुद रही थी | फिर कुछ ही देर में उसकी चूत से पानी निकल गया और वो झड़ गयी | मैं अभी भी चोदने के लिए तैयार था तो मामी को घोड़ी बना दिया और उनकी चूत में पीछे से लंड को घुसा दिया | वो चुदने के लिए तैयार थी तो अपनी चूत को आगे पीछे करती हुई चुदने लगी साथ में आ आ आ आ… अहह अहह अहह….. ऊ ऊ ऊ ऊ…. सी सी सी सी सी…. की सेक्सी आवाजे करती हुई चुदने लगी | मैं उनको ऐसे ही जोरदार धक्को के साथ चोदने के बाद झड़ गया |

फिर मैंने मामी की चूत में ऊँगली डाल कर जोर जोर से अन्दर बहर करने लगा जिससे उनकी चूत से गर्म पानी की धार निकल गयी | फिर मैंने कपड़े पहन लिए और उन दोनों ने अपने कपडे पहन लिए | उसके कुछ देर बाद मैं अपने घर चला आया | धन्यवाद………….
      edit

0 comments:

Post a Comment