Sunday, January 7, 2018

Published 11:47 PM by with 0 comment

मुह बोली बहन की झांट वाला बुर #2

हेल्लो दोस्तों कैसे हो आप सभी मैं आशा करता हूँ आप सभी लोग ठीक ही होंगे | मेरा नाम अनुज है मैं कानपूर से हूँ | मैं अपनी कहानी का भाग 2 लेकर आया हूँ और मैं अपनी कहानी प्रस्तुत करने जा रहा हूँ | मैं उम्मीद करता हूँ की ये भाग 2 आप सभी लोगो को पंसंद आएगा | मैं आप लोगो का ज्यादा समय न लेते हुए सीधे अपनी कहानी पर आता हूँ |

दोस्तों जेसे की मैंने आप सभी लोगो को उस कहानी में बताया था की मैं अपनी चचेरी बहन को कॉलेज से लेने गया था | तो रास्ते में कार खराब हो गयी थी और हम एक होटल में रुके थे | मैंने वहां उसकी मस्त चुदाई कर रहा था और कार मिस्त्री का फ़ोन आ गया था | तो हम दोनों चले दिए थे | अब इसके आगे की कहानी में आप सभी लोगो को बताने जा रहा हूँ |

फिर मैं और सुनीता कार में बैठ कर घर के लिए निकल पड़े और वो मुझे रास्ते में देख कर हँसने लगी | तब मैंने उससे पूछा तुम हँस क्यूँ रही हो | तो उसने कहा कुछ नही और हम ऐसे ही बाते करते हुए घर की और चल रहे थे की उसकी सहेली का फ़ोन आ गया | उसने पूछा घर पहुच गए तो सुनीता ने उसे बताया की रास्ते में कार ख़राब हो गयी थी तो वहां ज्यादा टाइम लगा गया था इसलिए हम लोग अभी नही पहुचे है | फिर उसने मुझसे बात करने के लिए कहा तो मैं उसकी सहेली से बात करने लगा | मैं आप सभी लोगो को बता देता हूँ की उसका नाम पायल है | वो दिखने में सुनीता से भी ज्यादा सेक्सी है और उसके बूब्स कुछ ज्यादा ही बड़े हैं और उसकी गांड बड़ी चौड़ी और गोल है | वो किसी हुस्न की मल्लिका से कम नही है | मैं उसको भी चोदना चाहता हूँ और मैं बात करते हुए घर पहुच गए | फिर मैंने कार से सामान उतार के घर में रख दिया और घर पर बताया चाचा से की रास्ते में कार ख़राब हो गयी थी |

एक दिन की बात है उस दिन घर पर कोई नही था | तो मैं और सुनीता ने उस दिन सेक्स किया | मैंने उस दिन सुनीता की मस्त चुदाई की और अब मैं उसको मौका मिलने पर चोदता था | उसे भी मुझसे चुदने में मज़ा आता था | मैं जब उस दिन उसको चोद रहा था | तब उसने मुझसे पूछा की तुम किसी से प्यार करते हो | तो मैंने कहा प्यार तो नही पर पसंद करता हूँ | तो उसने कहा बताओ तो मैंने उससे कहा अगर बता दूँ तो तुम मुझे उसकी चूत दिलाओगी | तब उसने कहा अगर मैं उसको जानती हूँ को कोशिश करूँगी | तो मैंने उसकी सहेली का नाम बताया पायल को मैं बहुत पंसद करता हूँ | तो उसने कहा जब मुझे तुम कॉलेज छोड़ने चलोगे तब मैं उसको तुमसे चोदवा दूँगी | मैंने कहा सच में तो उसने कहा की वो बहुत चुदक्कड है | उसे अपनी चूत को चुदवाने में बहुत मज़ा आता हैं और मैं उस दिन का इंतजार करने लगा जिस दिन चाचा मुझे सुनीता को कॉलेज छोड़ने के लिए कहे | फिर कुछ दिन बात उसका कॉलेज जाने का टाइम हो गया | फिर मैं उसको छोड़ने के लिए निकल गया | मैं पायल को लेने उसके घर होते हुए गया और हम तीनो लोग एक होटल मैं गए |

फिर हम तोनो लोग बैठ कर रूम में बात कर रहे थे और टीवी देख रहे थे की उसमे किस सीन देख कर पायल मेरे हाथ को पकड कर अपने अपनी जांघों पर रख कर | वो मेरी तरफ देख कर बेड पर लेट गयी | मैं उसके गले में किस करते हुए उसके कान के पास किस करने लगा | मैं उसको इसी तरह से कुछ देर तक किस करता रहा और वो कुछ ही देर में गर्म हो गयी | फिर वो अपने बूब्स को मसलते हुए मेरे सर को पकड कर अपने बूब्स को चूसने को कहने लगी | मैं उसके कपड़े को निकाल दिया और वो ब्रा और पेंटी में आ गयी | फिर मैं उसके बूब्स को ब्रा के उपर से दबाते हुए ओसके एक दूध को मुंह में रख चूसने लगा | तो उसके मुंह से सिसिकियाँ निकल गयी | मैं उसके बूब्स को दबाते हुए उसकी ब्रा भी खोल दी | ये देख कर सुनीता भी अपने बूब्स को मसलने लगी और मेरे लंड को पेंट के ऊपर से दबाने लगी | मैं उसके एक दूध को मुंह में रख कर चूसने लगा और दुसरे वाले को हाथ से मसलने लगा | मैं कुछ देर तक उसके बूब्स को एक एक करते चूसता रहा | फिर मैं उसकी पेंटी को निकाल कर उसकी चूत में अपने मुंह को घुसा कर चटाने लगा और सुनीता उसकी होठो पर किस कर रही थी | मैं उसकी चूत में अपनी जीभ को घुसा कर अन्दर बाहर कर रहा था और वो सुनीता की चूत को चाट रही थी | मैं उसकी चूत को चाटने के साथ में उसकी चूत में अपनी ऊँगली को घुसा कर अन्दर बाहर करने लगा | जिससे उसके मुंह से हलकी हलकी आवाज में उह्ह्ह उफ्फ्फ उह्ह्ह उह्ह्ह उफ्फ्फ उह्ह्ह आह्ह्ह्ह अह्ह्ह उह्ह उफ्फ्फ उह्ह्ह्ह अह्ह्ह अहह द्ध्ह उह्ह्ह उफ़ करने लगी | मैं उसकी चूत में अपनी ऊँगली को अन्दर बहार करते हुए उसकी चूत को चोदने लगा | कुछ देर तक मैं उसकी चूत में ऐसे ही करता रहा और फिर अपने कपडे निकाल दिए | फिर वो दोनों मेरे लंड को मुंह में रख कर चूसने लगी | वो दोनों लंड को एक एक करके मुंह में अन्दर बाहर करती हुई चूसने लगी | मैं अपने लंड को मुंह में अन्दर बाहर करते हुए चूसा रहा था |

वो मेरे लंड को मुंह अन्दर बाहर करती हुई चूस रही थी | वो मेरे लंड को कुछ देर तक मुंह में अन्दर बाहर करती हुई चूसती रही | फिर मैं उसकी टांगो को थोडा सा फेला कर उसकी चूत में ऊँगली डाल कर चूत में थूक लगा कर | उसकी चूत के मुंह पर लंड को रख कर उसकी चूत में लंड को घुसा कर चोदने लगा | तो उह्ह्ह उफ्फ्फ्फ़ उह्ह्ह उह्ह्ह उफ्फ्फ्फु फ्फ्फ्फ़ उह्ह फफफफ ह्ह्ह्ह फ्फ्फ ह्ह्ह्हह उह्ह्ह्ह उफ्फ्फ्फ़ उह्ह्ह्ह उह्ह्ह उफ्फ्फ उह्ह्ह उफ्फ्फ उफ्फ्फ अह्ह्ह अह्ह्ह्ह हाह फफफफ उह्ह करने लगी और सोनिता उसकी चूत को चाट रही थी | मैं उसकी चूत में धीरे धीरे अन्दर बाहर करता होवा उसको चोद रहा था | मैं उसको कुछ देर तक ऐसे ही चोदता रहा और फिर उसकी चूत से लंड को निकल कर सुनीता की टांगो को फेला कर चूत में लंड को घुसा कर चोदने लगा | तो उसके मुंह से उह्ह्ह उफ्फ्फ्फ़ उह्ह्ह उह्ह्ह उफ्फ्फ्फु फ्फ्फ्फ़ उह्ह फफफफ ह्ह्ह्ह फ्फ्फ ह्ह्ह्हह उह्ह्ह्ह उफ्फ्फ्फ़ उह्ह्ह्ह उह्ह्ह उफ्फ्फ उह्ह्ह उफ्फ्फ उफ्फ्फ अह्ह्ह अह्ह्ह्ह हाह फफफफ करने लगी और पायल अपनी चूत में ऊँगली को डाल कर अन्दर बाहर करने लगी | मैं सुनीता को जोरदार धक्को के साथ चोद रहा था | वो उह्ह्ह उफ्फ्फ्फ़ उह्ह्ह उह्ह्ह उफ्फ्फ्फु फ्फ्फ्फ़ उह्ह फफफफ ह्ह्ह्ह फ्फ्फ ह्ह्ह्हह उह्ह्ह्ह उफ्फ्फ्फ़ उह्ह्ह्ह उह्ह्ह उफ्फ्फ उह्ह्ह उफ्फ्फ उफ्फ्फ अह्ह्ह अह्ह्ह्ह हाह फफफफ करती हुई अपनी चूत को हिला हिला कर चोदने लगी | मैं उसको ऐसे ही कुछ देर तक चोदने के बाद उसकी चूत से लंड को निकल कर | पायल को जमीन पर घोड़ी बना दिया और उसके मुंह में लंड को डाल कर चुसाने लगा | कुछ देर तक चुसाने के बाद मैंने उसके पीछे से चूत में लंड को डाल कर चोदने लगा | तो वो उह्ह्ह उफ्फ्फ्फ़ उह्ह्ह उह्ह्ह उफ्फ्फ्फु फ्फ्फ्फ़ उह्ह फफफफ ह्ह्ह्ह फ्फ्फ ह्ह्ह्हह उह्ह्ह्ह उफ्फ्फ्फ़ उह्ह्ह्ह उह्ह्ह उफ्फ्फ उह्ह्ह उफ्फ्फ उफ्फ्फ अह्ह्ह अह्ह्ह्ह हाह फफफफ अहह शह्ह शह्ह उफ्फ्फ उह्ह्ह अहह करती हुई चुदने लगी | मैं उसकी चूत में जोरदार धक्को से चोदने लगा | तो वो अपनी चूत को आगे पीछे करती हुई चुदने लगी | मैं उसको कुछ देर तक एस ही जोरदार धक्को से चोदता रहा और कुछ ही देर में उसकी चूत से गर्म पानी की धार निकल पड़ी वो झड गयी | फिर मैं सुनीता की चूत में लंड को घुसा के अन्दर बाहर करते हुए उसको चोदने लगा | वो उह्ह्ह उफ्फ्फ्फ़ उह्ह्ह उह्ह्ह उफ्फ्फ्फु फ्फ्फ्फ़ उह्ह फफफफ ह्ह्ह्ह फ्फ्फ ह्ह्ह्हह उह्ह्ह्ह उफ्फ्फ्फ़ उह्ह्ह्ह उह्ह्ह उफ्फ्फ उह्ह्ह उफ्फ्फ उफ्फ्फ अह्ह्ह अह्ह्ह्ह हाह फफफफ करती हुई अपनी चूत को हिला हिला कर चुदने लगी | मैं उसको जोर जोर के धक्को से चोदने लगा | मैं उसको जोरदार धक्को से चोदता रहा और 40 मिनट की मस्त चुदाई करने के बाद मेरे लंड ने सारा माल उसके पेट पर निकाल दिया | इस तरह से मैं दोनों की मस्त चुदाई की फिर हम तीनो ने कपडे पहन कर मुंह को धुला और फिर हम लोग कार में बैठ कर उनके कॉलेज तक छोड़ कर अपने घर चला गया |
      edit

0 comments:

Post a Comment