Wednesday, January 31, 2018

Published 2:02 AM by with 0 comment

चाची को उड़ाया

indian aunty sex stories हेल्लो दोस्तों, मेरा नाम विनय है | मैं लखनऊ का रहने वाला हूँ | मेरी उम्र 18 साल है | मै लखनऊ का रहने वाला हूँ मैं पढाई करता हूँ | मेरी क्लास 12 है मेरे लंड का साइज़ 8 इंच लम्बा है | मैं देखने में अच्छा लगता था | दोस्तों मैं बताना चाहता हूँ की किस तरह से मैंने चाची को चोदा |

चाची दिखने में बहुत ही सेक्सी हैं | उनकी उम्र 24 साल है उनका फिगर 32 34 36 है | और चाचा हमेशा बाहर ही रहते थे | और कभी कभी घर आते थे | इस लिए चाची घर में अकेली ही रहती थी | उसके बूब्स काफी बड़े थे जिनको देख कर मेरा लंड खड़ा हो जाता और मेरा मन करता की मैं चाची को चोद डालूं | एक दिन मैंने चाची से कहाँ की चाची आप मस्त लग रही हो तो चाची बोली की सच में मैंने कहा हां चाची फिर मस्ती में बोली और मैं इतना कह कर चला आया तब चाची बोली की तुम अपने कमरे मैं जाओ और मै जाकर सो गया | फिर मैं सुबह उठा तो मैं कॉलेज की तयारी की फिर कॉलेज चला गया | मैं जब कॉलेज से आता था तब मैं और चाची मस्ती भी करते थे | फिर साथ मैं बैठ कर टी वी देखते और चाची फिर खान बनाती तब हम खाने खाने के बाद सो जाते थे | फिर सुबह उठ कर मैं कॉलेज जाता था |

एक दिन की बात थी जब मैं चाची को चोदने का प्लान बनाया | उस दिन मैं सेक्सी मूवी देख कर अपने कमरे में मुठ मर रहा था | साथ ही मैं ऊऊह्ह्ह्ह ऊऊह्ह्ह आआहाआ ऊऊन्न्ह ऊऊम्म्ह ऊउम्म ऊउन्न्ह अहहाआअहाअ अहहहा हहहा आअ अहहहाआ ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह ऊनंह ऊउम्म्म्ह अहहहाआआअ आहाआआउन्ह ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह आहा आआआहा ऊउम्म्ह ऊउन्न्ह आ अहाआअ की जोर जोर से आवाज कर रहा था | पर पता नहीं कब चाची मेरे रूम में आ गई और मुझे मुठ मारते देख कर वो अपने बूब्स को मसलने लगी और साथ में आआहाआ ऊऊन्न्ह ऊऊम्म्ह ऊउम्म ऊउन्न्ह अह हाआ अहाअ ऊउन्न्ह आ अहहहा हहहाआअ अहहहाआ ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह ऊनंह ऊउ म्म्म्ह अहहहा आआअ आहाआ आउन्ह ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह आहा आआआहा ऊउम्म्ह करने लगी | तब मैंने पलट कर देख तो चाची थी | फिर मैं चुपचाप वहां से चला आया और बाहर सोफे पर बैठ गया | तब चाची मुझसे सेक्सी बाते करने लगीं | मैंने चाची से बोला की नहीं चाची मै तो बस ऐसे ही | तो चाची बोली क्या मतलब विनय तुम्हरा तो मै डर गया और बोला कुछ नहीं | तब चाची ने बोली की मैं चुदना चाहती हूँ | ये कह कर वहा से अपने कमरे में वापस चली आई | तब मैं सोचने लगा की कहीं चाची मम्मी से न बोल दे | इसके बारे में ओर अगले दिन चुपचाप कॉलेज चला गया | वापस आया तो चाची से कुछ नहीं बोला तो चाची ने मुझे बुलाया और पूछा क्या तुम ठीक हो | तो मै बोला चाची मै बिलकुल ठीक हूँ | तो चाची बोली की कल से तुमने कुछ बताया नहीं | मुझसे तो मुझे लगा की तुमने मेरी बात नहीं सुनी | तब चाची ने फिर मुझसे कहा की विनय मैं चुदना चाहती हूँ |

अब मेरा भी मूड मन गया | चाची मुझे अपने बेडरूम में ले गईं और मेरे लंड को मेरी पेंट के ऊपर से सहलाने लगी | तब मुझसे नहीं गया और मैंने भी चाची के होठो पर अपने होठ रख दिये | चाची मेरे होठो को चूसने लगी | मैं भी उनकी होठो को चूस रहा था और साथ मैं उनके बूब्स भी दबा रहा था जिससे उनके मुंह से आआहाआ ऊऊन्न्ह ऊ ऊम्म्ह ऊउम्म ऊउन्न्ह अहहाआअहाअ अहहहा हहहा आअ अहह हाआ ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह ऊनंह ऊउ म्म्म्ह अहहहा आआअ आहा आ आउन्ह ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह आहा आआ आहा ऊउम्म्ह ऊउन्न्ह आअ हाआअ आआ हाआ ऊऊन्न्ह ऊऊम्म्ह ऊउम्म ऊउन्न्ह अहहाआअहाअ अहहहा हहहाआअ अह हहाआ ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह ऊनंह ऊउम्म्म्ह अहहहाआआअ आहाआआउन्ह ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह आहा आआ आहा ऊउम्म्ह ऊउन्न्ह आअहाआअ कर रही थी |

मै उनके कपडे उतारने लगा | अबवो मेरे सामने केवल ब्रा और पेंटी में थी | वो एक दम हॉट लग रही थी उनको देख कर मेरा लंड भी खड़ा हो गया| मेरा 8 इंच का लंड अब पेंट से बहर निकल आया | और मैने भी सारे कपडे उतर दिए | अब चाची की ब्रा भी खोल दिया मैने चाची के गोल बूब्स को मै दबाते हुवे बेड पर लिटा दिया | और उनके बूब्स को दबा रहा था | उनकी चूत में उंगली घुसा दी | उगली घुसते ही चाची के मुह से सिसिकिया आआ हाआ ऊऊन्न्ह ऊऊम्म्ह ऊउम्म ऊउन्न्ह अहहा आ अहाअ अहहहा हहहा आअ अहह हाआ ऊउन्न्ह ऊउ म्म्ह ऊ नंह ऊउम्म्म्ह अह हहा आआ अ आहा आआउन्ह ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह आहा आआ आहा ऊउम्म्ह ऊउन्न्ह आअहाआअ आआहाआ ऊऊन्न्ह ऊऊम्म्ह ऊउम्म ऊउन्न्ह अहहाआ अहाअ अहहहा हहहाआअ अहहहाआ ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह ऊनंह ऊउम्म्म्ह अहहहा आआअ आहा आआउन्ह ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह आहा आआआहा ऊउम्म्ह ऊउन्न्ह आअहाआअ निकल रही थी | फिर मै चूत को चाटने लगा | उनके मुह से और जोर जोर से सिसिकिया निकलने लगी थी |

मैने चाची को लंड चूसने को कहा तो चाची मेरा लंड चूसने लगी जेसे की कोई लोलीपोप चूस रही हो इस तरह 10 मिनट तक वो मेरा लंड चुस्ती रही | चीची की चूत पूरी तरह से गीली नहीं थी | फिर मैंने चाची की चूत मै अपनी जीभ खुसा थी और चाटने लगा | उनके मुह से जोर जोर से सिसिकियाँ आआहाआ ऊऊन्न्ह ऊऊम्म्ह ऊउम्म ऊउन्न्ह अहहाआअहाअ अहहहा हहहाआअ अहहहाआ ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह ऊनंह ऊउम्म्म्ह अहहहाआआअ आहाआआउन्ह ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह आहा आआआहा ऊउम्म्ह ऊउन्न्ह आअहाआअ आआहाआ ऊऊन्न्ह ऊऊम्म्ह ऊउम्म ऊउन्न्ह अहहाआअहाअ अहहहा हहहाआअ अहहहाआ ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह ऊनंह ऊउम्म्म्ह अहहहाआआअ आहाआआउन्ह ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह आहा आआआहा ऊउम्म्ह ऊउन्न्ह आअहाआअ आने लगी | फिर चाची बोली विनय मुझ अब तुम्हारा लंड चाहिए | तब मैने वेसा ही किया | मैने आपना 8 इंच का लंड उनकी चूत के मुंह पर रख दिया | फिर धीरे धीरे से धक्के मरने लगा | मेरे लंड आधा अन्दर घुस गया था | अब चाची के मुंह से आआहाआ ऊऊन्न्ह ऊऊम्म्ह ऊउम्म ऊउन्न्ह अहहाआअहाअ अहहहा हहहाआअ अहहहाआ ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह ऊनंह ऊउम्म्म्ह अहहहा आआअ आहाआआउन्ह ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह आहा आआआहा ऊउम्म्ह ऊउन्न्ह आअहा आअ आआ हाआ ऊऊन्न्ह ऊऊम्म्ह ऊउम्म ऊउन्न्ह अहहाआअहाअ अहहहा हहहाआअ अहहहाआ ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह ऊनंह ऊउम्म्म्ह अहहहा आआअ आहाआ आउन्ह ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह आहा आआआहा ऊउम्म्ह ऊउन्न्ह आअहा आअ की आवाज़ निकलने लगी | वो बोलीं तुम्हारा लंड बहुत बड़ा है | फिर मैने अपनेने लंड को बाहर निकल कर लंड के मुह पर थूक लगाया और चूत के मुह पर रखा कर जोर से धक्का मारा और और मेरा पूरा लंड चूत में घुस गया | और वो बहुत जोर जोर से सिसिकियाँ लेने लगीं और आआहाआ ऊऊन्न्ह ऊऊम्म्ह ऊउम्म ऊउन्न्ह अह हाआ अहाअ अहहहा हहहाआअ अहहहाआ ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह ऊनंह ऊउम्म्म्ह अहहहाआआअ आहाआआउन्ह ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह आहा आआआहा ऊउम्म्ह ऊउन्न्ह आअहाआअ आआहाआ ऊऊन्न्ह ऊऊम्म्ह ऊउम्म ऊउन्न्ह अहहाआअहाअ अहहहा हहहाआअ अहहहाआ ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह ऊनंह ऊउम्म्म्ह अहहहाआआअ आहाआआउन्ह ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह आहा आआआहा ऊउम्म्ह ऊउन्न्ह आअहाआअ करने लगी | फिर मैंने भी और जोर जोर से धक्के मारने सुरु कर दिया | मेरी स्पीड धीरे धीरे बढने लगी और उनके मुह से भी सिसकियाँ बढने लगी | जब मेरा 8 इंच का लंड पूरा चूत में घुस गया तो वो हलकी हलकी आवाज में आआहा आ ऊऊन्न्ह ऊऊम्म्ह ऊउम्म ऊउन्न्ह अहहाआअहाअ अहहहा हहहाआअ अहहहाआ ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह ऊनंह ऊउम्म्म्ह अहहहाआआअ आहाआआउन्ह ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह आहा आआआ हा ऊउम्म्ह ऊउन्न्ह आअहाआअ आआहाआ ऊऊन्न्ह ऊऊम्म्ह ऊउम्म ऊउन्न्ह अहहाआअहाअ अहहहा हहहाआअ अहहहाआ ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह ऊनंह ऊउम्म्म्ह अह हहाआआअ आहाआआउन्ह ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह आहा आआआहा ऊउम्म्ह ऊउन्न्ह आअहाआअ कर रही थी | अब मैं जोर जोर से धक्के मारने लगा | अब चाची को मजा आने लगा था चाची बोलने लगी और जोर से चोदो मुझसे आज फाड़ दो मेरी चूत को | मै भी और जोर से चोदने लगा और चाची बोली मै झडने वाली हूँ | तब मैं अपने लंड को निकाल लिया और उनकी चूत में अपनी ऊँगली डाल कर जोर जोर से अन्दर बाहर करने लगा | कुछ ही देर में उनकी चूत से गर्म पानी निकल गया | पर में अभी तक नहीं झडा था | फिर मैं चाची की गांड में आपने लंड को घुसाने कोशिश की | मैने चाची की गांड में थोक लगा कर गांड में आपना लंड घुसाने लगा तो तब उनकी गांड में जोर से धक्का मारने पर मेरा लंड चाची की गांड को फाड़ते हुवे पूरा घुस गया | चाची के मुंह से आआहाआ ऊऊन्न्ह ऊऊम्म्ह ऊउम्म ऊउन्न्ह अहहाआअहाअ अहहहा हहहाआअ अहहहाआ ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह ऊनंह ऊउम्म्म्ह अ हहहाआ आअ आहाआआउन्ह ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह आहा आआआहा ऊउम्म्ह ऊउन्न्ह आअहाआअ आआहाआ ऊऊन्न्ह ऊऊम्म्ह ऊउम्म ऊउन्न्ह अहहाआअहाअ अहहहा हहहाआअ अहहहाआ ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह ऊनंह ऊउम्म्म्ह अहहहाआआअ आहाआआउन्ह ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह आहा आआआहा ऊउम्म्ह ऊउन्न्ह आअहाआअ निकलने लगा | उसके बाद 10 मिनट तक गांड मारने के बाद मैने कहा की मैं झड़ने वाला हूँ | फिर मै झड गया | फिर हम दोनों बेड पर लेट गये | तब चाची ने पूरा मजा लिए चुदाई के | अब हम और चाची जब भी कोई घर पर नहीं होता है तो हम दोनो लोग हमेशा चुदाई किया करते हैं | चुदने में चाची मेरा पूरा साथ देती है | चुदने में चाची को बहुत मजा आता है |

दोस्तों ये थी मेरी पहली कहानी मैं आशा करता हूँ की आप लोगो को पसंद आई होगी | कहानी पढने के लिए धन्यवाद् |
      edit

0 comments:

Post a Comment