Tuesday, January 23, 2018

Published 8:35 AM by with 0 comment

पापा का मोटा लंड मेरे मुह में

हाय फ्रेंड्स, में मामली हु, पर मेरे घर में मुझे सब सुश्री के नाम से पुकारते हे, आप मुझे सुश्री के नाम से बुला सकते हो, मेरे घर पर में, मेरे पेरेंट्स, मेरा छोटा भाई रहते है.मेरे सेक्स स्टोरी लिखने के बाद मुझे बहुत सारे मेसेज आने लगे कुछ ने चैलेंज किया था की अपने पापा से सेक्स कर सकती हो.?
तो में उसदिन से तरी करने लगी थी, पहले तो में उनके सामने बिना ब्रा के लूस टी शर्ट में झुकके झाड़ू लगाती उन्होंने मुझे और मेरे दूध को नोटिस किया था और में कई बार मेरी गांड और दूध उनको दिखने लगी थी और तरी कर रही थी कब वो मुझे चोदे तो एक बार क्या हुआ.

एक बार मेरे पापा को उनके बिज़नस ट्रिप में इंडिया से बहार जाना था, समर का टाइम था और और मेरे पापा को बैंकाक का टूर में दो टिकट्स मिले थे, तो पापा मुझसे पुचा की क्या तुम मेरे साथ जाना चाहोगी ? में खुस हो गयी की बहार जाने का मुका है तो चलो चलते है सायद इसी बहाने पापा का लंड भी मिल जाये, दो सफ्ता बाद टूर था तो में रेडी हो गयी. हमारी फ्लाइट भुबनेश्वर से थी डेल्ही तक और दिल्ली में एक दिन रुकना था और अगले दिन दिल्ली बैंकाक के लिए रवाना होना था.

हम लोग निकल गए और दिल्ली पहुचने के बाद पता चला की दिल्ली में एक छोटा रूम मिला है, तो एक दिन की बात है हम दोनो एडजस्ट करने वाले थे.

तो होटल में आने के बाद में जेक फ्रेश होने लगी और पापा को कुछ काम के लिए जाना था अर्जेंट तो उन्होंने वाशरूम का दरवाजा खटखटाया और में बस तोवेल में थी मैंने दरवाजा खोला.

तो वो बोले मुझे नहाना है बहुत अर्जेंट है, तो में बोली की मुझे बड़ी जोर से बाथरूम लगी है अभी जाना है तो पापा बोले ठीक है तुम टॉयलेट कार्लो में यहीं नाहा लेता हु टाइम नही है.

मुझे ओड लगा थोडा सा तो फिर मैंने कहा ओके ठीक है, तप पापा मेरे बगल में नहाने लगे पहले वो सब उतर दिए और बस चड्डी में नहाने लगे और में भी तोवेल उतर के फुल नुदे होक टॉयलेट करने लगी में बिलकुल नंगी थी.

पापा मुझे देखे और मुस्कुराये और कहा की तुम बहुत खुबसूरत हो बाती, और नहाते नहाते वो साबुन लगा रहे थे और में देखि की उनका लंड खड़ा हो गया था मुझे बोले की तुम्हारी तोवेल दो.

तो मैंने कहा नहीं गीली हो जाएगी तोवेल, तो पापा बोले की नहीं होगी तो पापा अपने चड्डी उतर दिए और में देखि की उनका लंड पूरा खड़ा था और वो उसको छुपाने के लिए मुझसे तोवेल ले लिए और नहाके बहार चले गए. दो मिनट बाद पापा को बुलाई पापा तोवेल दो मुझे बहार आना है, तो पापा ने कहा की तुम आके लेलो मेरे पास टाइम नही है, तो में वैसे ही नंगी होक बहार ई और उनसे तोवेल लेके उनके पास बैठ गयी.

पापा ने मुझे देखा और कहा की तुम बहुत बड़ी हो गयी हो और मैंने देखा की उनकी नजर मेरे दूध पर था, और मैंने कहा की बड़ी मतलब क्या ? उन्होंने कहा की तुम्हारी सादी की उम्र हो गयी है, और मेरे पास ए मुझे एक किस किये मेरी गाल पे और इसी दौरान इनका एक हाथ मेरी बूब्स पे टच हो रहा था, और चले गये.

फिर पापा शाम को वापस आये और हम दोनो दिल्ली घुमने चले गये और आते आते नो बज गये हम आने के बाद होटल में ही खाना खाके सोने चले गये, अब मुस्किल है की एक बेड में दोनो कैसे सोये, में बोली की पापा में निचे सो जाती हु आप ऊपर सो जाओ.

पापा- नही दोनो एडजस्ट कर लेंगे, तो हम दोनो बड़ी मुस्किल में सोने लगे हमने एक चद्दर शेयर किया था तो पापा ने कहा की आज तुमको बुरा तो नही लगा.

में- क्यों बुरा क्यों लगेगा पापा ?

पापा- अरे हम दोनो बाथरूम शेयर किये तो.

में- नही पापा कोई बात नही, पर पापा एक बात पुछु ?

पापा- हा पूछो.

में- पापा आपका सुसु खड़ा क्यों था ?

पापा- मुझे देखे और कहा की बेटा अब ये भी तुमको नही पता ?

में –नही पापा बताओ न क्यों ?

पापा – तुम नंगी थी न इसलिए.
में – अच्छा पापा अगर में अभी नंगी हो जून तो वो आका सुसु फिरसे खड़ा हो जायेगा ?

पापा- तुम नंगी क्यों होगी ?
में – मुझे जानना है वो खड़ा क्यों होता है ?

पापा ने मेरी हाथ पकड़ा और अपने पेंट के ऊपर रख दिए और कहा देखो अभी भी खड़ा है.

में पकड़ी और कहा हा पापा आपका सुसु तो अभी भी खड़ा है वो कैसे ?

में अछे से पकड़ ली थी उनके लंड को और मसल ने लगी थी.

पापा- तुम ऐसा कर रहे हो तो अच लग रहा है, और ये कहके वो मेरी दूध को मेरी ड्रेस के ऊपर से पकड़ लिए थे और दबाने लगे.

में- पापा आपका सुसु इतना बड़ा कैसे है ?

पापा- तुम्हारी दुदू भी तो बहुत बड़ा है.

में- कहाँ बड़ी है कह कर में टॉप ऊपर करके ब्रा उतार दी.

पापा मेरी नंगी बदन के ऊपर हाथ रगड़ ने लगे और निप्पल को पकड़ के खीच रहे थे और मसल रहे थे.

में- पापा क्या में आपके सुसु को पकड़ सकती हु ?

पापा ने कहा हा, तो मैंने उनका पेंट उतर दी और उनके लंड को हाथ में पकड़ के हिलाने लगी.

मस्त एंड है मेरे पापा का बहुत मोटा भी है और इसी बिच पापा ने मेरे दूध को अपने मुह में लेके चूसने लगे, बहुत अच लग रहा था और में बहुत जोर से हिलाने लगी थी.

मेरी स्पीड देख कर पापा ने कहा- बेटी क्या तुम पहले भी ये सब की हो ?

में डर गयी और कहा हा पापा, ये सुन कर पापा मेरे दूध को अपने मुहमे दांतों से काट दिए और बोले किस किस से चुदाई है तू ?

में- बहुत लोगो से आज आज आप से चुदौंगी पापा.

वो मेरी गांड को एक जोर दर थप्पड़ मरे और बोले की तो आजा बेटी मेरे ऊपर आज तुझे चोद चोद के तेरी चूत का भोसदा बना दूंगा.

में- ठीक है पापा जैसा आप को ठीक लगे, उन्होंने मुझे नंगा किया और मेरी मुह पे अपना लंड को दल दिया.

में कुतिया की तरह चूसने लगी, पापा मेरे सर को अपने से लगा के रखे और मेरे बालों को खीच के आगे पीछे करने लगे थे और अपने लंड मेरी मुह को सता दिया था .

में साँस भी नही ले प् रही थी और वो वैसे ही चुस्वँव लगते, अब उनका स्पर्म गिरने वाला था तो मेरे मुह को और जोर से दबा दिया और सारा स्पर्म मेरे मुह में गिरा दिया. और बोले सब पि जा तो में सब पि गयी.
      edit

0 comments:

Post a Comment