Wednesday, January 3, 2018

Published 5:11 PM by with 0 comment

पापा के लंड से पहली चुदाई

हेल्लो मेरे प्यारे दोस्त कैसे हो आप सभी लोग ? मैं आशा करती हूँ की आप सभी लोग ठीक ही होगे | दोस्तों मैं आज अपनी एक कहानी को आप के सामने प्रस्तुत करने जा रही हूँ | मेरा नाम सोनाली है | मेरी उम्र 19 साल है | मैं रहने वाली गोवा की हूँ | ये जो मैं कहानी आप लोगो के सामने प्रस्तुत करने जा रही हूँ | इस कहानी में मैंने अपने पापा के लंड से अपन चूत की सील तुडवाई थी | मैं अपनी कहानी शुरू करने से पहले अपने फिगर के बारे में बता देती हूँ | मैं दिखने में गोरी हूँ और मेरे फिगर सेक्सी है | दोस्तों मेरी उम्र तो 19 साल ही है पर मैं दिखने में 22 – 23 साल की लड़की लगती हूँ | इसकी ये वजह है की मैं अपने खाने पिने पर ज्यादा ध्यान देती हूँ | मुझे सेक्सी कहनी पढने का शौक 17 साल की उम्र से हैं | मैं तब से ही सेक्सी कहानी पढ़ती आ रही हूँ | मैं अक्सर अपनी चूत में ऊँगली डाला करती हूँ | मेरे बूब्स काफी बड़े और गोल है | मैं अपने बूब्स को अपने एक हाथ में नही पकड सकती मेरे बूब्स इतने बड़े हैं | मेरी गांड भी काफी बड़ी है और जब में चलती हूँ तो मेरी गांड ऊपर की और उठी रहती है | मेरे घर में मेरी मम्मी और मेरे पापा साथ में मेरे दादा जी और मेरी दादी जी रहती हैं | मेरी दादी ज्यादा कमजोर है इसलिए वो अपने कमरे से बाहर नही जाती है | मेरे पापा एक सरकारी कम्पनी में जॉब करते हैं | मेरी मामी हाउस वाईफ है | मैं आशा करती हूँ की आप लोगो के मेरी कहानी पसंद आयेगी | अब मैं सीधे अपनी कहानी पर आती हूँ |

ये कहानी एक साल पहले की है | मेरे पापा दिखने में हेंडसम हैं और मेरी मामी भी दिखने में सुन्दर हैं | पर मेरी मामी ज्यादा टाइम पापा को नही दे पति है जिससे मेरे पापा को चुदाई करने को मम्मी की चूत नही मिल पाती है | मेरा रूम जो है मेरी मम्मी के बेडरूम के पास में ही है | मेरे रूम से मामी के रूम में क्या होता है | ये दिखा करता है जिससे मैं कभी कभी मम्मी के रूम में झक कर देखा करती हूँ | एक दिन की बात है | जब मुझे लगा की पापा मम्मी से कुछ कह रहे हैं पर मामी नही मान रही है | तब मैं अपने बेड से उठ कर खिड़की से देखने लगी तो मैंने देखा की मेरे पापा अंडरवियर में खड़े हैं | मम्मी ब्रा और पेटीकोट में बैठी है | मैं सोचने लगी की मम्मी पापा की क्या बात नही मान रही थी | जो पापा मम्मी से कह रहे थे की तुम मान जाओ यार आज | उसके कुछ देर बाद मुझे पता चला की पापा मम्मी से कपडे उतारने के लिए कह रहे थे | मम्मी मेरी पुराने विचार की हैं इसलिए पुरे कपडे उतारने के लिए तैयर नही हो रही थी | उसके कुछ देर बाद मम्मी मान गयी | तब मम्मी ने अपनी ब्रा खुल दी तो पापा मम्मी ने बूब्स को मुंह में रखकर चूसने लगे | उसके बाद पापा ने मम्मी को पूरा नंगा करने के बाद उनकी चूत को चाटने लगे | पापा ने अपनी अंडरवियर निकाल दी जिससे उनका बड़ा लम्बा और मेटा लंड डंडे की तरह एकदम खड़ा हुआ दिखा रहा था | मैंने उनके लंड का साइज़ अनुमान किया की उनका लंड 7 इंच लम्बा और मोटा 3 इंच है | उसके बाद वो मम्मी की चूत में अपने पुरे लंड को घुसा कर चुदने लगे | पापा मम्मी की चूत में अपने पुरे लंड को अन्दर तक घुसा कर चुदने लगे | मम्मी सिसकियाँ लेती हुई चुद रही थी | ये सब देख कर मेरी चूत गीली हो गयी तो मैं अपनी बेड पर जाके अपनी चूत में ऊँगली डाल कर चूत को हिलाने लगी | मैं अपनी चूत में ऊँगली तब तक हिलती रही जब तक मेरी चूत से पानी निकल नही गया फिर मैं सो गयी |

जब मैं सुबह उठी तो मेरा बदन अकड रहा था | मैं नहा कर स्कूल के लिया तैयार हुई | मैं नाश्ता करने के लिए टेबल पर आ गयी और नास्ता करने के बाद में मेरे पापा मुझे हेमशा की तरह स्कूल अपनी कार से छोड़ने गए | मैं भी हमेशा की तरह उनके किस करके ही स्कूल जाती थी | मैं उस दिन भी पापा को किस करने के बाद कॉलेज चली गयी | उसके दुसरे दिन की बात है | जब मुझे पापा स्कूल छोड़ने जा रहे थे तो उस दिन मैंने अपनी शॉट स्कर्ट को थोडा ऊपर कर दिया | जिससे पापा मेरी जांघों को देख सके वो मेरी जांघों को देखकर बोले बेटा तुम आज अच्छी लग रही हो | फिर जब मैं अपने स्कूल पहुची तो मैं रोज तो उनके गल पर किस करती थी | पर उस दिन उनकी होठो पर एक छोटी से किस करके बोली आप भी अच्छे लग रहे हो और अपने स्कूल चली गयी | जब मैं घर आई तो पापा मुझे देखकर थोडा हँसते हुए बोले बेटा मम्मी तुम्हारी नही है चाय बना लाओ | पापा ये कहते हुए अपने लंड को पैंट के ऊपर से सहलाने लगे | मैं समझ गयी की मेरा प्लान कामियाब हो रहा है | मैं किचेन में चाय बना ही रही थी पर पापा भी मेरे पीछे से आकर अपने लंड को दबाते हुए मेरे पीछे खड़ा हो गए | मैं भी थोडा पीछे बढ़ कर पापा के लंड को अपनी गांड से रगड़ने लगी | कुछ देर तक तो पापा मेरे कंधो को पकड कर खड़े रहें | पर जब पापा को अपने आप पर कंट्रोल नही होवा तो वो मेरे बड़े बूब्स पर हाथ रख दिया |

फिर पापा ने मुझे कहा की मूवी देखने चलोगी | मैं पापा के साथ में मूवी देखने गयी थी | उस दिन एक बहुत पुरानी मूवी लगी हुई थी | जिससे थिएटर में बहुत कम लोग ही थे | मैं और पापा जाके बालकनी में बैठ कर मूवी देखने लगे | मैं कुछ देर बाद पापा के हाथ को अपने हाथ में पकड लिए था | पापा मेरे हाथ सहलाने लगे वो कुछ देर तक ऐसे ही सहलाते रहे | फिर वो धीरे से मेरे कंधे पर हाथ रखकर मेरे दूध पर हाथ रख दिया | मैं मचल गयी और उनके हाथ को पकड कर अपने दूध को दबा दिया | वो ये देखकर मेरे दूध को हाथ में पकड कर दबाने लगे | मैं पहले से ही गर्म थी तो उनके साथ देने लगी | मैंने उनकी होठो पर अपनी होठो को रख दिया | वो मेरी होठो को चूसने लगे | मैं भी उनके होठो को मुंह में रख कर चूसने लगी | कुछ ही देर में पापा भी गर्म हो गए और बोले की चलो किसी होटल में चलते हैं | मैं चलो फिर मैं और पापा एक होटल में चले गए | जब मैं वहां पहुची तो पापा ने मुझे अपनी बाहों में भर लिया | वो मुझे लेकर बेड पर लेट गए और मेरे कपडे को निकाल दिया साथ में अपने कपडे भी निकाल दिए | अब मैं उनके सामने ब्रा और पैंटी में थी | वो मेरे सामने अंडरवियर में थे | अब मुझे शर्म लग रही थी तो मैंने अपनी आँखों को बंद कर लिया | पापा मेरे पास अक्सर धीरे से मेरी होठो पर किस करते हुए | अपने हाथो को पीछे ले जाकर मेरी ब्रा भी खोल दी जिससे मेरे बड़े और चिकने बूब्स सामने आया गए | पापा मेरे एक दूध को मुंह में रखकर चूसने लगे दुसरे को हाथ में पकड कर दबाने लगे | वो मेरे बूब्स को ऐसे ही कुछ देर तक चुसाने के बाद मेरी पैंटी को निकाल कर मेरी चूत में अपनी जीभ को घुसा कर चाटने लगे | मेरे मुंह से आ आ आ आ.. हु हु हु हु.. ह ह ह ह ह… अ अ अ अ… हाँ हा हाँ… की सिसकियाँ निकल गयी | वो मेरी चूत को चाटने के साथ में मेरी चूत में ऊँगली भी घुसा दी और ऊँगली को अन्दर बाहर करने लगे | वो कुछ देर तक मेरी चूत को चाटने के बाद अपनी अंडरवियर से लंड को निकाल कर मेरे मुंह में घुसा दिया | मैं उनके मोटे लंड को मुंह में रखकर चूसने लगी | वो मेरे मुंह में 3 -4 मिनट तक लंड को चुसाने के बाद अपने लंड को मेरे मुंह से निकाल कर | वो मेरी टांगो को फ़ैल कर मेरी चूत पर अपने लंड को रगड़ने लगें | वो मेरी चूत पर ऐसे ही लंड को रगड़ने के साथ एक ही धक्के में मेरी चूत में घुसा दिया | मैं खीच पड़ी और मेरी चूत से खून की एक धार बाहर की और निकल गयी | मैं दर्द की वजह से और कुछ नही बोल पाई | पापा मेरी चूत में अपने लंड को धीरे धीरे अन्दर बाहर करते हुए मुझे चोदने लगे थे | फिर पापा ने मेरी चूत में लंड की स्पीड तेज कर दी जिससे में मज़ा लेती हुई चुदने लगी | वो मेरी चूत में जोरदार धक्को के साथ मुझे चोद रहे थे | मैं सेक्सी आवाज करती हुई चुद रही थी | वो मुझे ऐसे ही 15 – 16 मिनट तक जोरदार धक्को के साथ मुझे चोदते रहे | फिर मेरी चूत से गर्म पानी की धार निकल गयी | उसके कुछ ही देर बाद पापा भी झड गए | मैं लेटी रही और पापा मेरे बूब्स को मुंह में रख कर कुछ देर तक चूसने के बाद वो अपने कपडे पहन लिए मैं अपने कपड़े पहन लिए | जब हम घर जा रहे थे तो मैं पापा से बोली की पापा बहुत दर्द हो रही है तो पापा ने कहा ये तुम्हारी पहली चुदाई थी न इसलिए दर्द हो रही है | कुछ देर बाद ठीक हो जाएगी | फिर हम घर चले गए |
      edit

0 comments:

Post a Comment