Thursday, January 4, 2018

Published 5:18 PM by with 0 comment

बहन को चाचा ने चोद कर रंडी बनाया

हेल्लो दोस्तों मेरी रंडी बहन ने चाचा के साथ अपनी जमकर चुदाई कराई | दोस्तों जब मैंने अपनी बहन को चाचा के साथ चुदते देखा तो मुझे अपनी आँखों पर विश्वास नही हुआ की मेरी बहन ये भी कर सकती है | उस दिन दोस्तों मेरी बहन और चाचा ने चुदाई का मज़ा इस तरह से लिया था | की उस कमरे में खली धक्को की और मेरी बहन की सिसकियाँ की आवाज आ रही थी | वो सब नज़ारा देख कर मेरा भी लंड खड़ा हो गया और अब मुझे ये देखने में मज़ा आने लगा था | दोस्तों उस दिन मेरी बहन और चाचा ने सारी हदें पार कर दी थी | दोस्तों मैं ये कहानी शुरू करने से पहले अपने बारे में बताना चाहता हूँ |

मेरा नाम अनुज है | मेरी उम्र 19 साल है | मेरी हाईट 5 फुट 8 इंच है | मैं रहने वाला सीतापुर का हूँ | मैं अभी 12 मे पढाई कर रहा हूँ | दोस्तों मेरे चाचा का नाम शंकर है | वो एक कम्पनी में जॉब करते है वो दिखने में काफी अच्छे हैं | वो हम सबके साथ में ही रहते हैं और मेरे पापा पुलिस में हैं जससे उनका ट्रांसफर हो गया था | वो मेरी मम्मी को साथ दूसरी सिटी चले गए थे | मैं और मेरी बहन को इसलिए नही ले गए थे क्यूंकि हमारी पढाई चल रही थी | मेरे मम्मी और पापा हर महीने में एक बार आते है | दोस्तों मैं आप लोगो को अपनी बहन के बारे में भी बता देता हूँ | मेरी बहन दिखने में गोरी है | उसका फिगर सेक्सी हैं उसके बूब्स ज्यादा बड़े तो नही है पर उसकी गांड बड़ी चौड़ी है | मेरी बहन का नाम मोनिका है | अब मैं अपनी कहानी प्रस्तुत करता हूँ | मुझे उम्मीद है की आप सभी लोग को ये कहानी पसंद आयेगी |

उस चुदाई के बाद मेरी बहन चाचा से रोज ही चुदती थी | वो रात होने पर चाचा के कमरे में चली जाती थी और चाचा उसकी मस्त चुदाई करते थे | मैं ये सब उसी कमरे की खिड़की से देखा करता था | मुझे चाचा और बहन की चुदाई देखने में मज़ा आता था इसलिए में बहन को कुछ नही कहता था | वो रोज रात को चाचा के कमरे में जाके चुदती थी | उसके बाद की बात है जब चाचा कुछ काम से पापा के पास चले गए | मुझे नही पता उस की चाचा पापा के पास क्या लेने गए थे | उस रात मेरी रंडी बहन अपने कमरे में ही सो गयी | उसके बाद मैं भी अपने कमरे में आकर सो गया | जब मेरी आंख रात में खोली तो मेरा मन हुआ की देखूं की मोनिका कमरे में है या कहीं चली गयी क्यूंकि उसे अपनी चूत में रोज लंड लेने की आदत हो गयी थी | मैं जब उसके कमरे की खिड़की से देखा तो वो लेती हुई अपने बूब्स को मसल रही थी साथ में सेक्सी आवाजे भी कर रही थी हु हु हु…. ह्ह्ह्हह… अ अ अ अ अ… हु हु हु हु… हाँ हाँ हाँ हाँ.. आ आ आ आ.. की आवाजे कर रही थी | वो अपनी चूत को सहलती हुई आपनी चूत में ऊँगली डाल कर जोर जोर से अन्दर बाहर कर रही थी | वो अपनी चूत में ऊँगली कर रही और लेटी थी ये देखकर में अपने कमरे में आकर सो गया | जब मैं सुबह उठ तो मेरी बहन मोनिका ने नाश्ता तैयार किया और मैंने किया फिर कॉलेज के लिए निकल गया | उसके बाद मेरी बहन भी अपने कॉलेज चली गयी |

जब मैं कॉलेज से घर आया तो देखा की मेरी मम्मी और पापा आये हुए हैं | मैं समझ गया की चाचा मेरे पापा को लेने गए थे | फिर उस दिन से मेरी बहन ने चाचा के कमरे में जाना बंद कर दिया | अब मेरे पापा घर पर 5-6 दिन तक रुकेगें | उस दिन से 5 दिनों तक मेरी बहन अपने कमरे में ही सोती थी | अगर मेरे पापा जान जाते तो उसे घर से निकाल देते इसलिए मेरे चाचा और में बहन इन 5 दिनों में एक बार भी चुदाई नही की | फिर कुछ दिन में ही वो 5 दिन कैसे निकल गए मुझे तो पता भी नही चला | तब मेरे चाचा पापा और मामी का सामन लेकर उनको छोड़ने गए थे | उस दिन मेरी मम्मी ने मुझे कुछ रूपये दिए और बोली की अच्छे से पढाई करना मैं फिर अगले महीने में आउंगी | फिर मेरे चाचा मम्मी और पापा को कार से छोड़ने चले गए |

जब चाचा छोड़कर आये तो उनके साथ में एक लड़का आया था वो लड़का कौन था मुझे नही पता है | फिर कुछ देर बाद मुझे पता चला की ये चाचा का दोस्त है और इसका नाम सुनील है | कुछ देर बाद सुनील चला गया | तब चाचा अपने कमरे में चले गए तभी पीछे से मेरी बहन उनके कमरे में चली गयी | मेरी बहन और चाचा बैठ कर बात करने लगे | तब चाचा ने मेरी बहन से कहा की यार मेरी जान एक बात मान जाओ | तब मोनिका बोली बोलो मेरे राजा तुम्हारी बात नही मानूंगी तो किसकी बात मानूंगी | वो बोले की यार ये जो मेरा दोस्त सुनील है इसने मुझे अपनी गर्लफ्रेंड की चुदाई कराई है | जब तक भईया और भाभी घर थे तब तक मैंने इसकी गर्लफ्रेंड की रोज चुदाई की है | ये सुनील तेरा दीवाना है | उस दिन उसने मुझसे कहा यार मैं तुम्हे अपनी गर्लफ्रेंड की चुदाई करा देता हूँ तुम मुझे अपनी गर्लफ्रेंड की चुदाई करवा दो | ये बात सुनकर मुझे तो जोर का झटका लगा की चाचा तो चोदते ही हैं साथ में अपनी दोस्त को भी चोदने को बोल रहे हैं | कुछ देर बाद मेरी बहन ने हाँ कह दी |

उसके दुसरे दिन की बात है जब चाचा सुनील को अपने घर लेकर आये | फिर वो सब बैठ कर एक दुसरे से बाद करने लगे वो ऐसे ही कुछ देर बैठ कर बात करते रहे | फिर तीनो लोग चाचा के कमरे में चले गए और चाचा ने हमेशा की तरह अपने कमरे को अन्दर से बंद कर लिया | मैं हमेशा की तरह खिड़की के पास जाकर देखने लगा | चाचा ने अपने कपडे निकाल दिए साथ में उनके दोस्त ने भी अपने कपडे निकाल दिए | अब वो दोनों ही अंडरवियर में थे | फिर चाचा ने मोनिका के बूब्स को अपने दोनों हाथो में भर कर दबाने लगे | उनका दोस्त मोनिका की होठो पर अपने होठो को रख कर मोनिका की होठो को चूस रहा था | वो मोनिका की होठो को चूसने के बाद उन दोनों ने मिलकर मोनिका के कपडे निकाल दिए | वो कुछ ही देर में ब्रा और पैंटी में आ गयी | वो ब्रा और पैंटी में सोने की तरह चमक रही थी | तो उसके दोस्त ने उसके एक दूध को मुंह में रख लिया और चूसते हुए उसकी ब्रा भी खोल दी तो उसके छोटे और गोल बूब्स उसके सामने आ गए | तब वो उसके एक दूध को मुंह में रख कर जोर जोर से दबाते हुए चूसने लगा | चाचा उसकी पैंटी को निकाल उसकी टांगो को फैला कर उसकी चूत में अपनी जीभ को घुसा कर उसकी चूत को चाटने लगे | तब मोनिका सेक्सी आवाज में ह्ह्ह्हह.. ह ह ह ह ह.. अ अ अ अ…. हु हु हु हु…. उई उई उई.. आ आ आ आ… की आवाजे करती हुई अपने बूब्स के निप्पल को अपनी ऊँगली से ही दबाने लगी | चाचा का दोस्त उसके मुंह में अपने लंड को डाल कर चूसा रहा था | मोनिका उसके लंड को हाथ में पकड कर अन्दर बाहर करती हुई चूस रही थी | सुनील अपने लंड को मुंह में कुछ देर तक ऐसे ही अन्दर बाहर करते हुए चूसता रहा | फिर अपने लंड को उसके मुंह से निकाल कर मोनिका की चूत के मुंह पर लाके टिका दिया | चाचा अपने लंड को उसके मुंह में डाल कर चुसाने लगे | सुनील मोनिका की चूत के ऊपर अपने लंड को रख कर रगड़ने लगा | मोनिका ने बिस्तर को कस के पकड लिया और सुनील ने उसकी चूत में अपने लंड को एक ही धक्के में घुसा दिया | मोनिका की चूत गीली होने की वजह से सुनील का लंड उसकी चूत में पूरा घुसा गया | मोनिका चीख पड़ी पर चाचा का लंड उसके मुंह में होने की वजह से उसकी चीख बाहर नही निकली | फिर सुनील उसकी चूत में अपने लंड को जोर जोर के धक्को के साथ अन्दर बाहर करने लगा | उसके बाद उसने उसकी चूत से अपने लंड को निकाल लिया | तब मोनिका चाचा के मोटे लंड पर अपनी गांड को रख कर बैठ गयी और ऊपर नीचे होती हुई चुदने लगी | वो चाचा के लंड पर बैठ कर चुदने लगी | चाचा ने उसे अपने हाथ में उठा लिया तो उसकी चूत में सुनील ने अपने लंड को डाल कर जोरदार धक्को के साथ उसको चोदने लगा | सुनील मोनिका की चूत में 10 मिनट तक जोरदार धक्को के साथ अन्दर बाहर करते हुए चोदता रहा | फिर उसकी चूत से अपने लंड को निकाल कर उसकी चूत के ऊपर ही झड़ गया | पर चाचा मोनिका को अभी भी उसकी गांड में नीचे से धक्के मार रहे थे | कुछ ही देर में चाचा ने धक्को की स्पीड इतनी तेज कर दी की कमरे में धक्को की और मोनिका की सिसकियाँ की आवाज गूंजने लगी | चाचा उसको अपने हाथो में उठा कर जोर जोर से चोद रहे था | चाचा मोनिका को ऐसे ही 15 मिनट तक चोदते रहे | फिर उसकी गांड से अपने लंड को निकाल कर उसके मुंह में डाल कर चुसाने लगे | चाचा ने 1 मिनट तक अपने लंड को चुसाने के बाद उसके मुंह में ही झड़ गए |

फिर चाचा ने और उनके दोस्त ने अपने कपडे पहन लिए | फिर मोनिका अपनी चूत में ऊँगली डाल कर जोर जोर से हिलाने लगी | वो कुछ देर तक ऐसे ही अपनी चूत में ऊँगली डाल कर हिलाती रही तो उसकी चूत से गर्म पानी की धार निकल गयी | तब मोनिका ने कपड़े पहन लिए और तीनो बैठ कर बात करने लगे |

दोस्तों ये थी मेरी बहन की चुदाई की कहानी | मेरे चाचा ने मेरी बहन मोनिका को अपने दोस्त से चुदवाया था | मैं उम्मीद करता हूँ की आप लोगो को मेरी कहानी पसंद आई होगी |
      edit

0 comments:

Post a Comment