Tuesday, January 30, 2018

Published 5:02 PM by with 0 comment

गाँव की गोरी की चुदाई का भयानक मंजर

desi sex kahani

दोस्तों मैं आज हिंदी सेक्स कहानियां के पाठको के लिए अपनी एक सच्ची कहानी को लेकर आया हूँ और मैं जो कहानी आज आप लोगो के सामने पेश करने जा रहा हूँ ये मेरे जीवन की सबसे मस्त चुदाई की कहानी है | दोस्तों इस कहानी को पढने में आप लोगो को बहुत मज़ा आएगा और ये कहानी आप लोगो को पसंद तो जरुर आयेगी | मैं अपनी कहानी को शुरू करने से पहले अपने बारे में बता देता हूँ |

दोस्तों मेरा नाम अरविन्द है और मेरी उम्र 50 साल है | मैं रहने वाला एक बड़े गाँव का हूँ और मैं जो आज कहानी आप लोगो के सामने पेश करने जा रहा हूँ ये कहानी उस टाइम की है जब मैं 25 साल का था | मैं उस टाइम मस्त गबरू जवान था | मैं दिखने में बहुत स्मार्ट लड़का था और मेरे पापा मेरे गाँव के बहुत बड़े जमीनदार थे | दोस्तों मेरे गाँव में मेरे पापा की बहुत चलती थी जिसकी वजह से मैं अपने गाँव में राज करता था | जब मेरे पापा कहीं चले जाते थे तो मैं ही पापा का काम देखता था | दोस्तों मैं आप लोगो का बिना टाइम बर्बाद किये सीधे कहानी पर आता हूँ |

दोस्तों उस टाइम की बात है | मैं अपने खेतो से घूम कर कर पनघट पर खड़ा था और गाँव की लड़कियों को देखकर उनके मज़े ले रहा था | मैं अपने गाँव की बहुत लड़कियों की चुदाई कर चूका हूँ और मुझे गाँव की जो लड़की पसंद आ जाती थी मैं उसको अपने गाँव के बाहर खेत वाले घर में बुला लिया करता था |

दोस्तों वो घर मैंने मस्ती और चुदाई करने के लिए ही बनवा रक्खा था | मेरे पापा के टाइम पर वहां पर एक छोटा सा कमरा हुआ करता था और मैंने उस कमरे को तोड़वा कर कभी बड़ा घर बनवा दिया था | उस घर में मैं एक नौकर को रक्खा था जोकि उस घर की देख भाल करता था | उसी दिन की बात है जब मुझे एक लड़की दिखी जोकि गगरी में पानी भरकर ठुमक ठुमक कर चल रही थी जिससे उसके ऊपर से पानी गिर रहा था |

क्या नज़ारा था दोस्तों मैं आज उस पल को याद करता हूँ तो मेरा लंड आज भी खड़ा हो जाता था | वो गगरी को रख कर चल रही थी और उसके ऊपर से पानी नीचे तक गिर रहा था | वो ऊपर से नीचे तक पानी से बिगी हुई थी जिससे उसका सेक्सी बदन दिख रहा था | दोस्तों उसके सेक्सी बदन को देखकर मेरे मुंह और लंड में पानी आ गया था | तब मैंने उसको रोक लिया और साथ की लड़कियों को जाने को बोला | जो साथ में लड़कियां थी वो चली गयी | तब मैंने उससे कहा तुम्हारा नाम क्या है ? वो बोली मालिक मेरा नाम गोरी है | मैं हाँ ठीक है तो आज क्या कर रही है |

वो बोली मालिक घर का काम है वहीँ कर रही हूँ | मैंने उससे कहा चल आज शाम टाइम तू मेरे खेत पर आ जाना | वो बोली मैं आज जाउंगी पर घर क्या बताउंगी | मैं तब उससे कहा तुझे कुछ बताने की जरूरत नही है | मैं अपने नौकर को बुलाने भेजता हूँ तू घर जा और वो अपनी कमर ठुमकती हुई गगरी लेकर चल दी | दोस्तों जब वो अपनी गांड को हिलाती हुई चल रही थी तो क्या लग रही थी | वो अपनी गांड को हिलाती हुई अपने घर चली गयी और मैं अपने खेतो की तरफ फिर चला गया | मैं जब अपने खेतो की तरफ गया तो अपने नौकर को कुछ रूपये दिए और कहा की जाकर बियर और दारू की बोतल लेकर आ |

वो रूपये लेकर चला गया और कुछ देर बाद वो आया और दारू के साथ कुछ खाने के लिए लेकर आया | दोस्तों जब वो आ गया तो मैंने उसे गोरी को बुलाने भेज दिया और कहा की अगर उसकी माँ कुछ कहती है तो मेरा नाम बता देना | मैं तैयार होकर बैठा ही था की कुछ ही देर में मेरा नौकर गोरी को अपने साथ लेकर आ गया | जब गोरी आ गयी तो मैंने उससे कहा की आ और मेरे लिए पैग बना |

वो बैठ कर मेरे लिए पैग बनाने लगी और मैंने एक पैग उठाया और पी गया | मैंने ऐसे ही 3 पैग पी गया और फिर मैं गोरी से पीने के लिए कहा तो उसने माना किया और कहाँ मालिक मैं नही पीती हूँ | मैंने उसकी तरफ आंखे दिखाई और उसने तुरंत उठाया और पी गयी | दोस्तों वो पीने के बाद अजीब सा मुंह बना रही थी | तब मैंने उसे एक पैग अपने हाथो से पिला दिया और वो 2 पैग पीने के बाद हवा में उड़ने लगी थी |

वो मुझसे बोली क्या मालिक मेरा सर घूम रहा है | मैंने तब उससे कहा की तुम्हारा सर नही घूम रहा है ये दुनिया घूम रही है और | मैं उससे ये कहते हैं उसके सरे कपडे निकाल दिए साथ में उसकी ब्रा भी खोल दी | दोस्तों वो बिना कपड़ो के क्या मस्त माल लग रही थी और मैंने अपने फ़ोन में एक गाना बजा दिया और उसको उस गाने पर नाचने को कहा | दोस्तों वो नशे में होने की वजह से मेरे कहने पर तुरंत ही नाचने लगी | जब वो अपने गांड को उठा उठा कर नाच रही थी तो मुझे रहा नही गया और मैंने भी अपने सारे कपडे निकाल दिए | मैं अपने कपडे निकालने के बाद उसके साथ नाचने लगा | मैं जब उसके साथ नाचने लग तो मेरा लंड उसके कूल्हों में लग रहा था जिससे मुझे बहुत मज़ा आता | मैं उसके साथ ऐसे ही 10 मिनट तक नाचता रहा और वो मेरे साथ नाचती रही |

दोस्तों हम दोनों ही नशे में चूर थे और मज़े ले रहे थे | फिर मैंने उसे बेड पर गिरा लिया और उसकी होठो पर अपनी होठो को रख कर चूसने लगा और वो मेरी होठो को मुंह में रख कर चूसने लगी | मैं उसकी होठो को मुंह में रख कर पुरे 5 मिनट तक चूसता रहा | मैं उसकी होठो को चूसने के बाद उसके गुलाबी जिस्म को चूमने लगा | मैं जब उसके गुलाबी जिस्म को चूमने लगा तो वो मस्त होकर आन्हे भारती हुई बिस्तर को कस के पकड लिया | मैं उसके जिस्म को चूमने के साथ उसकी बड़ी बड़ी चुचियों को मुंह में रख कर चूसने लगा | मैं जब उसकी चुचियों को मुंह में रख कर चूसने लगा तो वो आह आह उई उई आह ओह ओह…. सी उई मई उई आह उई… की आवाजे करने लगी |

दोस्तों मैं उसकी आवाजो को सुनकर और जोश में आ रहा था | मैं उसकी दोनों चुचियों को ऐसे ही 5 मिनट तक चूसने के बाद मैंने अपने मोटे और लम्बे लंड को उसके हाथ में पकड़ा दिया | वो मेरे लंड को हाथ में पकड कर आगे पीछे करती हुई अपने मुंह में रख लिया और चूसने लगी | वो मेरे लंड को अपने मुंह में रख कर चूस रही थी और मैं अपने लंड को उसके मुंह में देकर चूसा रहा था | ये लंड चुसाने का कार्यक्रम पुरे 5 मिनट तक चलता रहा |

फिर मैंने उसकी चूत में अपनी जीभ को घुसा कर चाटने लगा | मैं जब उसकी चूत में अपनी जीभ को घुसा कर चाटने लगा तो वो आह उई आह उई माई माँ आह…. ओह ओह ओह उई माई माँ…. की आवाजे करने लगी | मैं उसकी चूत को चाटने के साथ उसकी चूत में अपनी उँगलियों को घुसा दिया जिससे उसके मुंह से आह आह यार मज़ा आ रहा है और जोर से चाट आह उई माँ आह और जोर से चाट आह उई करने लगी | वो आह उह करती हुई मेरे हाथ को पकड कर अपनी चूत में जोर जोर से अन्दर बाहर करने लगी | वो मेरे हाथ को पकड कर कुछ देर तक अन्दर बाहर करती रही |

फिर मुझसे बोली की अब मुझसे रहा नही जा रहा है तुम मुझे चुदाई का असली मज़ा दे दो ? तब मैंने उसे थोडा नीचे की और खीचा और उसकी चूत में अपने लंड को थोडा सा घुसा कर उसकी चूत में धीरे धीरे अन्दर बाहर करने लगा | मैं जब उसकी चूत में धीरे धीरे अन्दर बाहर करने लगा तो वो अपनी चूत को हिलाने लगी और मुझसे बोली की और जोर के धक्के मारो | मैं उसके कहने पर उसकी चूत में धक्को की स्पीड तेज कर दी जिससे वो आह आह उह करती हुई चुदाई के मज़े लेने लगी |

मैं जब उसकी चूत में तेज धक्के मारने लगा था तो वो मस्त सेक्सी आवाज करती हुई अपनी चूत को सहला रही थी | वो अपनी चूत को सहलाती रही और मैं उसकी चूत में ऐसे ही जोर जोर के धक्के मारता रहा | मैं जब उसकी चूत में तेज धक्के मारने लगा तो उसकी चूत से फच फच फच की आवाजे आने लगी | मैं उसको ऐसे ही जोरदार धक्को के साथ कुछ देर चोदने के बाद उसकी चूत से लंड को निकाल लिया और उसको अपने लंड पर बैठा दिया | वो जब मेरे लंड पर बैठ गयी और ऊपर नीचे होती हुई चुदने लगी | वो मेरे लंड पर उछल उछल कर चुदने लगी और मैं उसकी चूत में नीचे से धक्के मारने लगा |

दोस्तों ये चुदाई का कार्यक्रम पुरे 20 मिनट तक चलता रहा | फिर जब मैं झड़ गया तो उसने अपने कपडे पहन लिए और अपने घर के लिए चल पड़ी | दोस्तों उसकी इस भयानक चुदाई से उसकी चाल भी बिगड़ गयी थी और गोरी अपनी टांगो को फैला फैला कर चल रही थी जिससे उसको कोई भी देखकर बता सकता था की गोरी की आज किसी ने मस्त ठुकाई की है | वो चल भी नही पा रही थी तो मैंने अपने नौकर से कहा की उसे घर तक छोड़ आ और वो उसे उसके घर तक छोड़ कर आया |

ये थी मेरी कहानी | मैं उम्मीद करता हूँ की आप लोगो को मेरी कहानी पसंद आई होगी ? धन्यवाद…………
      edit

0 comments:

Post a Comment