Sunday, February 11, 2018

Published 7:42 AM by with 0 comment

धुप में की चुदाई और गांड जलाई

हाय फ्रेंड्स, मेरा नाम ललित है, और मैं गाजियाबाद का रहने वाला हूँ | मेरी उम्र 24 साल की है और मैं पेशे से एक कंप्यूटर ऑपरेटर हूँ | मैं गोरा हूँ, और मेरी हाईट 5 फुट 8 इंच है | और मेरी बॉडी एक दम फिट है, और मैं काफी हेंडसम हूँ ऐसा सभी को पता हैं | आज जो मैं आपको कहानी बताने जा रहा हूँ, इसमें मैंने एक लड़की की चुदाई की थी जो दिखने में ठीक ठाक थी पर उसका बदन बहुत ही प्यारा था | पर जब मैंने उसकी चुदाई की तो मेरी गांड जल गई थी बताता हूँ कैसे हुआ ये मेरे साथ |

ये बात आज से करीब 5 साल पहले की है, जब मैं 19 साल का था | मैं उस समय कॉलेज में था और मेरा सेकंड इयर में था | मेरी क्लास में एक लड़की थी जिसका नाम शालू था और वो दिखने में ठीक ठाक ही थी और उसकी हाईट भी ज्यादा नहीं थी पर उसके दूध बड़े थे और उसकी गांड उठी हुई थी | वो मुझे लाइन देती थी पर मैं उसकी तरफ ध्यान नहीं देता था क्यूंकि मैं विद्या को पटा रहा था | वो मुझे बहुत पसंद थी और वो दिखने में बहुत सुन्दर थी पर उसके नखरे बहुत थे | मैं उसे लाइन देता था पर वो मुझे अवोइड करती थी | शालू मेरे पीछे लगी थी और मैं उसे अनदेखा करता था | मैं विद्या के पीछे लगा था और वो मुझे अनदेखा करती थी | मेरी कहानी ऐसी ही चल रही थी | जब एक दिन फ्रेशेर पार्टी पार्टी थी, और हमारे जो सीनियर थे उन्होंने हमे सेकंड इयर में फ्रेशेर पार्टी पार्टी दी थी | मैंने सोचा था कि मैं विद्या को उसी दिन प्रोपोस करूँगा मैं डर भी रहा था | फिर वो दिन आ ही गया जब फ्रेशेर पार्टी पार्टी होनी थी | हमारा ड्रेस कोड था वाइट शर्ट, ब्लैक पेंट, और ब्लैक ब्लेज़र और लड़कियों को साडी पहननी थी |

उस दिन विद्या बहुत सुन्दर लग रही थी, साडी उसपे बहुत जंचती थी ये तब मैंने देखा था | उसका फिगर शानदार दिख रहा था | मैं भी उस समय कम हेंडसम नहीं लग रहा था कई सारी लड़कियां मुझ पर लट्टू हो गई थी | पर मैं क्या करता मुझे तो विद्या पसंद थी, मैं उसे ही देख रहा था फिर एंट्री हुई शालू की और शालू भी काफी सुन्दर लग रही थी मन तो कर रहा था की उसे पटक के चोद दू और विद्या की जगह उसे प्रोपोस कर दूं | जब पार्टी ओवर हो गई थी तब मैंने विद्या को रोका और उससे कहा



विद्या .. विद्या (मैंने आवाज़ लगाया )

विद्या ने जवाब दी हाँ ललित कहो क्या हुआ ?

मैंने कहा तुमसे बात करनी है

फिर उसने कहा हाँ बोलो न क्या बात बोलनी है ?

विद्या एक्चुअली आज तुम बहुत सुन्दर लग रही हो |

उसने कहा ओह रियली थैंक यू सो मच ललित |

फिर मैंने कहा कि विद्या मैं तुम से बहुत प्यार करता हूँ ई लव यू | और उसे एक रेड रोज दिया |

वो गुस्सा हो गई और उसने मुझे एक थप्पड़ मार के कहा ललित मैं तुम्हे इतना अच्छा समझती थी और तुम मेरे प्रति ऐसा सोचते हो |

फिर मैंने कहा विद्या मैं तुम्हारे बारे में कुछ भी गलत नहीं सोचता मैं तुमसे सच्चा प्यार करता हूँ विद्या | तुम चाहो तो देख लेना पर मैं तुमसे बहुत प्यार करता हूँ, मैं तुम्हारे बिना नहीं रह सकता प्लीज मेरा प्रपोजल एक्सेप्ट कर लो |

तब उसने कहा देखो ललित तमाशा बनने की कोई जरुरत नही है, और रही बात प्रपोजल एक्सेप्ट करने कि तो वो मैं नहीं कर सकती क्यूंकि आई हेव अ बॉयफ्रेंड एंड आई लव हिम सो मच !

मेरा सपना एक दम टूट गया था उसे पाने का मैं बहुत उदास सा हो गया था और सोचने लगा था कि क्या करूँ | फिर मैं वहाँ से अपनी बाइक ले कर एक बार में गया वहाँ मैंने 3 बियर की बोतल पी गया था | मुझे नशा हो गया था काफी फिर मैं जैसे तैसे गाड़ी चलाते हुए घर पंहुचा तो घर वाले समझ गए थे कि मैं पी कर आया हूँ | पर मेरे घर वालों ने मुझे कुछ नही बोले और ना ही मैं उन्हें कुछ बताता भी उनके पूछने पर | फिर मैं अपने रूम पर गया और लेट के सोचने लगा कि मैं आत्महत्या कर लूं, या हाँथ की नस काट लूं ऐसे ऐसे मेरे मन में ख्याल आने लगे थे और यही सोचते सोचते मेरी नींद लग गई और मैं सो गया था | सुबह मेरी जब नींद खुली तो मेरा सर बहुत दर्द दे रहा था | और फिर घर वालों ने मुझे बहुत डांटा कि तू आज कल पीने लगा है इसलिए हम लोगो ने तुझे पढाया लिखाया कि तू ये सब करेगा | ये सब ताने सुनने के बाद मैं फ्रेश हुआ और बिना कुछ खाए पिए मैं गाड़ी उठा कर कॉलेज चला गया | जैसे मैं कॉलेज पंहुचा तो देखा कि विद्या अपने बॉयफ्रेंड के साथ बाते कर रही थी ये देख के मुझे बहुत जलन हुई पर मैंने कुछ नहीं कहा और स्टैंड में जा कर अपनी बाइक खड़ी कर दी | फिर वो क्लास की तरफ आ ही रहा था तो मुझे शालू मिली उसने मुझे हाय किया फिर मैंने उसे हाय कहा..तो फिर शालू ने मुझसे कहा की ललित मैं तुमसे प्यार करती हूँ | मैं जनता था की ये मुझे लाइन मारती थी लेकिन मैंने उसे मना नहीं किया और उसका प्रपोजल एक्सेप्ट कर लिया और आई लव यू टू केह दिया |

अब हम दोनों साथ में रहने लगे और और फ़ोन में रात रात भर बाते करने लगे | ये बाते विद्या को भी पता चल गयी थी पर उस बात से मुझे फर्क नहीं पड़ता था | हम लोगो ने साथ में घूमना, मूवी देखना, और कैफ़े में जाना सब कर रहे थे | फिर गर्मी का सीजन चालू हो गया ओर हम और लोगो ने प्लान बनाया कि कहीं पानी वाली जगह चलते हैं घूमने | फिर हम लोग मेरी बाइक पर निकल गए थे जहाँ पर हम गए थे वहाँ कोई नहीं आता जाता था और वो जगह खाली ही रहती थी | वहाँ पर कई सारी बड़ी बड़ी चट्टानें थी | फिर मैं और शालू एक दुसरे का हाँथ पकड़ कर चलने लगे फिर हम दोनों एक चट्टान पर बैठ गए थे और बाते करने लगे उतने में शालू ने मेरे गाल पर एक किस किया मुझे अच्छा लगा था उसका ऐसा करना | फिर मैंने उसके होंठ में किस किया और फिर उसका चेहरा पकड के लगातार उसके होंठ चूसने लगा और वो भी मेरे होंठ को चूस रही थी | हम दोनों एक दूसरे को किस कर रहे थे और एक दूसरे के शरीर को सहलाते जा रहे थे | फिर मैंने उसका टॉप उतारा और ब्रा के ऊपर से उसके दूध को पीने लगा और वो मेरे सिर को सहला रही थी और उऊंन्ह्ह उऊंन्ह्ह उऊंन्ह्ह ऊम्म्ह्ह ऊनंह ऊउम्म्ह्ह ऊन्ह्ह आआअहाआहाआ अहहाआआहाअ कर रही थी | फिर मैंने उसके ब्रा को भी उतार दिया था और दोनों मम्मों को हाँथ में ले कर साथ में चूस रहा था और वो लगातार उऊंन्ह्ह उऊंन्ह्ह उऊंन्ह्ह ऊम्म्ह्ह ऊनंह ऊउम्म्ह्ह ऊन्ह्ह आआअहाआहाआ अहहाआआहाअ कर रही थी | फिर मैंने उसकी जीन्स उतारी और फिर पेन्टी भी | उसकी चूत चिकनी थी तो मैंने पूछा कि तुमने शेव की है क्या अपनी झांटे तो उसने कहा कि हाँ कल ही अपनी चूत की सफाई की थी मैंने | फिर मैं उसकी टाँगे चौड़ी करके उसकी चूत में ऊँगली डालने लगा और चूत को चाटने लगा और वो अहहहहः आहाह्हहहहहहाहा अहहहह्हहाहाआ अहहाआ अहहह्हहा अहहहहहः अहहहाहहाहा अहाह्हहाहा अहहहह्हा अहह्हाह्हा आह्हहः उऊंन्ह्ह उऊंन्ह्ह उऊंन्ह्ह ऊम्म्ह्ह ऊनंह ऊउम्म्ह्ह ऊन्ह्ह आआअहाआहाआ अहहाआआहाअ करने लगी थी | 10 मिनट तक मैंने उसकी चूत चाटी फिर उसने मेरी जीन्स उतारी और फिर मेरी टी-शर्ट उतारी फिर वो मेरा लंड हाँथ में ले कर चूसने लगी | शालू बहुत अच्छे से मेरे लंड को चाट रही और चूस रही थी 15 मिनट तक उसने मेरे लंड को बहुत अच्छे से चूसा और चाटा था | फिर मैं चट्टान में लेट गया चट्टान बहुत गरम थी पर मैं जोश में था उस पर मैंने इतना ध्यान नहीं दिया था और फिर वो मेरे लंड को अपनी चूत में डाल कर उचकने लगी और मैं उसे नीचे से धक्के लगा कर चोद रहा था और वो वो अहहहहः आहाह्हहहहहहाहा अहहहह्हहाहाआ अहहाआ अहहह्हहा अहहहहहः अहहहाहहाहा अहाह्हहाहा अहहहह्हा अहह्हाह्हा आह्हहः उऊंन्ह्ह उऊंन्ह्ह उऊंन्ह्ह ऊम्म्ह्ह ऊनंह ऊउम्म्ह्ह ऊन्ह्ह आआअहाआहाआ अहहाआआहाअ कर रही थी | 20 मिनट की चुदाई के बाद मैंने अपना माल बाहर ही निकाल दिया था | जब मैं उसे छोड़ कर अपने घर गया और तुरंत ही पेंट उतार कर देखा तो मेरी गांड लाल हो गई थी और बहुत जलन दे रही थी | मेरी गांड को ठीक होने में 3 दिन लग गए थे |

तो दोस्तों ये थी मेरी कहानी, मुझे उम्मीद है कि आप लोगों को मेरी कहानी पसंद आई होगी, और मैं आगे से आप लोगों के लिए ऐसी ही मजेदार कहानियां लाता रहूँगा |
      edit

0 comments:

Post a Comment