Saturday, February 3, 2018

Published 7:04 PM by with 0 comment

मुसलमानी चूत का मज़ा लिया उसके पति के सामने

हेल्लो दोस्तों मेरा नाम प्रियांश है और मैं बिलासपुर का रहने वाला हूँ | अभी मैं जॉब करता हूँ और भाभियों को पटा कर चोदता हूँ | मुझे शादीशुदा औरतें बहुत पसंद है क्यूंकि उन्हें कुछ सिखाने की जरूरत नहीं होती वो सब खेली हुई रहती हैं | मेरा बदन गठीला है और मैं नार्मल गोरा हूँ | अब मैं ज्यादा टाइम नहीं लूँगा और सीधा स्टोरी पर आता हूँ |

ये बात तब की है जब मैं 21 साल का था | मेरा ग्रेजुएशन हो चुका था और मैं जॉब की तलाश कर रहा था, उस टाइम वहाँ उतनी कोई आशा नहीं थी जॉब मिलने की क्यूंकि मेरा ग्रेजुएशन बी.कॉम से था और मुझे अच्छी जॉब चाहिए थी जो मिलना इतना आसान नहीं था | ठंड का टाइम था मैं सुबह घर से खाली पेट निकल गया था सुबह 8 बजे इंटरव्यू के लिए | इंटरव्यू में टाइम था तो सोचा की थोडा नाश्ता कर लूं और फिर मैं वहाँ से निकल गया होटल की तरफ जो की पास में ही थी | जाते जाते मुझे एक मुसलमान ने टक्कर ने मार दी थी वो अपनी कार से था मैं पैदल था फिर उसने सॉरी कहा | मैंने भी ज्यादा बात नहीं किया और निकल गया वहाँ से | हमारे यहाँ पोहा जलेबी हर होटल में मिलती है सुबह के समय | फिर उसके बाद मैं वहाँ से नाश्ता कर के निकला उसकी गाडी मेरे पास आ कर रुकी | मैंने उससे कहा क्या हुआ भाई साहब आप इस तरह मेरा रास्ता क्यूँ रोक के खड़े हैं ?

उसने कहा – तुमसे कुछ बात करनी है|

मैंने कहा – कहिये|

उसने कहा कि तुम्हे मेरी टक्कर लगी उसके के लिए सॉरी | मैंने कहा की कोई बात नहीं चलता है

फिर उसने मुझसे पुछा कि तुम यहाँ कैसे ? मैंने कहा जी जॉब इंटरव्यू के लिए आया था पर यहाँ अभी टाइम है इसलिए नाश्ता करने आ गया था |

अच्छा क्या किया है तुमने ? मुझे लगा की शायद ये मेरी हेल्प कर सकते हैं जॉब में ! तो मैंने कहा की मैंने बी.कॉम किया है |

उन्होंने कहा कि ठीक है तुम मेरे साथ चल सकते हो क्या अपने डाक्यूमेंट्स दिखा देना फिर मैं तुम्हारी हेल्प करूंगा जॉब में |

मैंने थैंक्स कहा और उनके साथ कार में बैठ गया फिर वो मुझे अपने घर ले के गए थे | उन्होंने मुझे चाय कॉफ़ी आर्डर की पर मैंने मना कर दिया था |

फिर उन्होंने मेरे डाक्यूमेंट्स देखे और कहा की ठीक है मैं तुम्हारी हेल्प करूँगा उन्होंने बताया की मेरा एक फर्म है मैं वहाँ तुम्हे कंप्यूटर ऑपरेटर की जॉब दिलवा सकता हूँ और तुम्हे पगार भी अच्छी दूंगा |

मैं बहुत खुश हुआ और उनसे पुछा की आप के घर में कौन कौन हैं ? तो उन्होंने बताया की मैं और मेरी बीवी बस रहते हैं और हुमरे बच्चे नहीं एक भी (जबकि इनकी शादी को 5 साल हो चुके थे ) | फिर मैंने पूछा की कोई प्रॉब्लम है क्या ? तब उन्होंने बताया की मैं पहले बहुत हस्तमैथून क्या करता था और नतीजा ये निकला की मैं अब अपनी बीवी को खुश नहीं कर पाता | मैं बहुत जल्दी झड़ जाता हूँ और मेरा लंड भी छोटा है जिस वजह से वो बहुत प्यासी रह जाती है | देखो मुझे गलत मत समझना तुम मुझे बहुत अच्छे लड़के लगे इसलिए मैं तुमसे एक हेल्प मांग रहा हूँ क्या तुम कर पाओगे मेरी हेल्प ? मैंने कहा सर आप मेरी जॉब में हेल्प कर रहे हैं तो मैं भी आपकी हेल्प कर सकता हूँ (मुझे लगा की ये अदर कोई हेल्प के लिए बोलेंगे पर मैं गलत था ) | उन्होंने मुझसे कहा की मैं उनकी बीवी को चोदु और उन्हें एक बच्चा दूँ | पहले तो मैंने मना कर दिया और उनसे कहा की मैं सोच के बताऊँगा |

फिर मैं वहाँ से निकल के अपने घर आया तो मेरे घर वाले पूछने लगे की मेरे इंटरव्यू का क्या हुआ ? तो मैंने कहा की जहां मैं जॉब के लिए गया था वहाँ तो नहीं हो पाया पर एक अंकल मिले थे मुझे वो मुझे अपनी फर्म में कंप्यूटर ओपेरटर की जॉब दे रहे हैं और सैलरी भी अच्छी देने की बात कही है | ये सुन के मेरे घर वाले बहुत खुश हुए पर मुझे तो पता था की मैं क्या करने जा रहा हूँ ? रात का खाना खाने के बाद मैं सोने के लिए अपने रूम गया और लेट के बस वही सोचता रहा की क्या मैं ये सब कर सकता हूँ बस एक जॉब को पाने के लिए ? क्या मुझे शोभा देगा ? फिर मैंने सोचा की अगर मैं ऐसा नहीं करूंगा तो मेरे हाथ से जॉब जा सकती है फिर मैंने लास्ट डिसीजन लिया की मैं करूंगा ऐसा |

अगले दिन सुबह मैं 10 बजे उनके घर गया तो पता चला की वो आधे घंटे बाद घर आयेंगे ये बात मुझे उनके नौकर ने कही और मैंने कहा ओके | मैं वहीँ बाहर वेट करने लगा फिर अंकल की कार आई और उन्होंने मुझसे कहा की तुम बाहर क्यूँ बैठे हो | तो मैंने उनसे कहा की मैं आपका ही वेट कर रहा था फिर उन्होंने कहा की तुम अन्दर क्यूँ नहीं आए इतना बोल के वो मुझे अन्दर ले गए बैठाया फिर उन्होंने आवाज़ लगाईं अन्जुम बाहर आओ इनके लिए चाय ले आना | उन्होंने बोला जी अभी आते है ले के फिर अंकल ने मुझसे पुछा की फिर क्या सोचा तुमने ?

मैंने कहा अंकल मैं आपकी हेल्प करूंगा | अंकल खुश हो गए और बोले की मुझे तुमसे यही उम्मीद थी |

फिर करीब 15 मिनट बाद उनकी बीवी आई सूट पहने हुई थी क्या लग रही थी यार इतना सुन्दर गजब का माल मैंने आज तक नहीं देखा था | दूध जैसे गोरी बड़े दूध पतली कमर और गोल सी गांड इतनी गजब लग रही थी मैं उसे घूरे जा रहा था और मेरा मुंह खुला रह गया था उसको देख के | वो कहाँ हूर की पारी जैसी और अंकल की बेटी उम्र की लग रही थी | हमने साथ में चाय पिए और फिर अंकल ने उससे कहा की इनको घर घुमा दो तो मैं समझ चुका था की बस अब ये चुदने वाली है | वो मुझे हर एक कमरा दिखाने लगी फिर अपने रूम ले के गयी तो मैंने देखा की उसका पति भी वहीँ बैठा है | मैंने बोला की आप यहाँ तो उसने कहा की हाँ मैं तुम्हे चोदते हुए देखूंगा और अपनी बीवी को चुद्वाते हुए देखूंगा | मैंने भी मन में बोला की चलो हटाओ देखने दो अपने को क्या इसी की बीवी है और ये खुद ही चुदवाना चाह रहा है अपनी बीवी को अपनी आँखों के सामने तो मुझे क्या दिक्कत है मैंने भी कहा ओके |

फिर हम दोनों पास आए और मैं उसकी गांड में हाथ रख के सहला रहा था और वो मेरा चहरा पकड़ के किस कर रही थी | मैं भी उसका साथ दे रहा था फिर मैंने उसके सलवार में हाँथ डाल के उसकी चूत को रगड़ने लगा ओर वो किस करते हुए आन्न्न्हाहाहहू ऊउन्ह्हहहब अहहः ऊउन्ह्ह्ह अहाहहहः करने लगी मैं समझ चुका था की वो गरम हो रही है फिर मैं उसके कपडे एक एक करके उतारने लगा और वो मेरे कपडे उतारने लगी अब वो ब्रा और पेन्टी में थी और मैं अपने बॉक्सर में | फिर मैंने उसके ब्रा उतार के उसके दूध पिए 20 मिनट तक | उसके निप्पल मोटे थे इसलिए मुझे बहुत मजा आ रहा था | फिर मैं उसके पेट में किस करते हुए उसकी चूत पर आ गया और पेन्टी उतार दी | एक दम गोरी चिट्टी चूत थी उसकी और शेव थी | मैं तो देख के पागल सा हो गया था | फिर मैंने जैसे ही उसकी चूत पे जीभ रखी उसके मुह से आवाज़ आई ऊऊऊन्ह आअहहहह्हह मैं समझ गया की अब ये गरम हो चुकी है | मैं उसकी चूत चाटने लगा और वो हहहः अहहनूँनंह अहहहहह्हा अहहहह्हा हाह्हहाह्हा हहहह्हा हहहहः ऊउन्ह्ह कर रही थी | उसे बहुत मजा आ रहा था अपनी चूत चटवाने में 15 मिनट बाद वो झड़ गयी थी | फिर मैं उठा अपना बॉक्सर उतारा उसकी आँखों में चमक आ गयी थी देख के कि उसके सामने एक जवान लंड है और वो भी तना हुआ | फिर वो मेरे लंड को पकड़ के चूसने और चाटने लगी |

लंड चूसने के बाद उसने कहा की अब देर न करो और फिर मेने भी देर न करते हुए उसे चोदा | उसके मुह से आवजा आई आआअह्ह्ह्ह आराम से करो मेरी चूत टाइट है | मैंने कहा वो तो मैं समझ ही चुका था | फिर मैंने उसे खूब चोदा था 30 मिनट तक उसी बीच वो दो बार और झड़ी और मैंने उसकी चूत में ही वीर्य छोड़ दिया था |

अब वो बहुत खुश है मैंने उसे दो बच्चे दिए और मैं भी अच्छी सैलरी के साथ उनके यहाँ ही जॉब कर रहा हूँ | वो लोग मेरे बहुत आभारी है और मैं भी उनका | मेरा जब मन होता है मैं उसकी बीवी को चोदता हूँ और गांड भी मारता हूँ |

दोस्तों ये मेरी सच्ची घटना है और मैं ये अब भी करता हूँ |
      edit

0 comments:

Post a Comment